दिल्‍ली में कोरोना की बेकाबू रफ्तार, एक दिन में 7,437 मामले, 24 की मौत, सर गंगाराम अस्‍पताल में 37 डॉक्टर संक्रमित

दिल्‍ली के सर गंगाराम अस्पताल में एक साथ 37 डॉक्‍टर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना की रफ्तार बेकाबू होती नजर आ रही है। दिल्‍ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 7437 नए मामले सामने आए हैं। राजधानी के सर गंगाराम अस्पताल में एक साथ 37 डॉक्‍टर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

Krishna Bihari SinghFri, 09 Apr 2021 12:43 AM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन/एजेंसियां। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना की रफ्तार बेकाबू होती नजर आ रही है। दिल्‍ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 7,437 नए मामले सामने आए हैं। यह इस साल का सबसे बड़ा दैनिक आंकड़ा है। इसी अवधि में कोरोना संक्रमण के कारण 24 लोगों की मौत हो गई है जिससे दिल्‍ली में महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 11,157 हो गई। राजधानी के सर गंगाराम अस्पताल में एक साथ 37 डॉक्‍टर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके थे ज्यादातर डॉक्‍टर 

गौर करने वाली बात यह भी है कि इनमें से ज्यादातर डॉक्‍टर कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके थे। अस्पताल सूत्रों के मुताबिक डाक्टरों की जांच रिपोर्ट गुरुवार को पाजिटिव आई है। इनमें अधिकतर डाक्टरों में संक्रमण के हल्के लक्षण हैं। इसकी वजह से 32 डाक्टर होम आइसोलेशन में रहकर इलाज करा रहे हैं। 50 वर्ष से अधिक उम्र के पांच डाक्टरों की हालत गंभीर है। इन्हें गंगाराम अस्पताल के ही कोविड वार्ड में भर्ती किया गया है।

एम्स में 50 से अधिक स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित

यही नहीं अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भी 50 से अधिक स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें मेडिसिन विभाग के कुछ वरिष्ठ डॉक्टरों के साथ ही सर्जरी के भी रेजिडेंट डाक्टर कोरोना संक्रमित मिले हैं। हालांकि एम्स ने इसकी पुष्टि नहीं की है।

10 मिनट के अंदर मरीजों को भर्ती करने के आदेश 

इस बीच कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अस्पतालों को 10 मिनट के अंदर मरीजों को भर्ती करने का आदेश दिया है। अस्पतालों को बेड और कर्मचारियों के बढ़ाने के साथ ही आक्सीजन की उपलब्धता भी सुनिश्चित करनी होगी। दिल्ली सरकार ने सभी अस्पतालों के चिकित्सा निदेशकों को व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। 

कोविड मरीजों के लिए आरक्षित करने के निर्देश 

दिल्‍ली सरकार ने 50 बेड से अधिक की क्षमता वाले दिल्ली के 115 निजी अस्पतालों को 50 फीसद बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित करने के निर्देश भी दिए हैं। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मियों  को रात के कर्फ्यू के दौरान आवाजाही की छूट दी जाएगी। हालांकि उन्‍हें वैध पहचान पत्र दिखाना होगा... 

8.1 फीसद हुई संक्रमण दर 

दिल्‍ली में संक्रमण दर भी 6.1 फीसद से बढ़कर 8.1 फीसद हो गई है। बीते दो दिनों में ही पांच हजार से अधिक नए मामले आए थे। दिल्ली में अब तक के सबसे ज्‍यादा दैनिक मामले 11 नवंबर को आए थे। 11 नवंबर को दिल्‍ली में 8,593 मामले आए थे जबकि महामारी से सबसे ज्‍यादा मौतें 19 नवंबर को हुई थीं। पिछले साल 19 नवंबर को 131 मरीजों की संक्रमण से मौत हो गई थी। दिल्ली में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 19,455 से बढ़कर 23,181 हो गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.