Delhi Coronavirus : सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर तैयार, स्वास्थ्यकर्मियों का इंतजार, 500 बेड से शुरू होगी सुविधा

इस बार होंगे 5000 बेड, मदनमोहन मालवीय अस्पताल से अटैच किया गया है सेंटर। फोटो विपिन।

दक्षिणी दिल्ली जिला प्रशासन के अधिकारियों का कहना है कि उनकी तरफ से तैयारियां पूरी कर दी गई हैं। इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार है बेड भी लगा दिए गए हैं। पैरामेडिकल स्टाफ मिलते ही इसे चालू कर दिया जाएगा। जिसके लिए केंद्र सरकार से मंजूरी भी मिल गयी है।

Prateek KumarThu, 22 Apr 2021 09:47 PM (IST)

नई दिल्ली [गौरव बाजपेई]। कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए पिछले साल छतरपुर में बनाए गए सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर को अब तक दोबारा चालू नहीं किया जा सका है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को केयर सेंटर का दौरा कर मंगलवार तक इसे चालू करने के निर्देश दिए थे। वहीं, दक्षिणी दिल्ली से सांसद रमेश बिधूड़ी भी इसका दौरा कर चुके हैं। दक्षिणी दिल्ली जिला प्रशासन के अधिकारियों का कहना है कि उनकी तरफ से तैयारियां पूरी कर दी गई हैं। इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार है, बेड भी लगा दिए गए हैं। पैरामेडिकल स्टाफ मिलते ही इसे चालू कर दिया जाएगा। जिसके लिए केंद्र सरकार से मंजूरी भी मिल गयी है। पिछले साल इस कोविड केयर सेंटर का संचालन आइटीबीपी द्वारा किया जा रहा था। इस बार इसे दिल्ली सरकार की ओर से दोबारा शुरू किया जा रहा है।

इधर ताजा अपडेट के मुताबिक छतरपुर स्थित सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर में 500 बेड पर कोरोना मरीजों का इलाज करने के लिए आइटीबीपी को जिम्मेदारी दी गई है। इस बारे में बृहस्पतिवार को गृह मंत्रालय की ओर से आदेश जारी कर दिए गए हैं। सभी 500 बेड पर आक्सीजन की भी व्यवस्था की जाएगी। आदेश में कहा गया है कि आइटीबीपी कोविड केयर सेंटर के लिए जल्द से जल्द मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ उपलब्ध कराए। यहां 500 बेड को आपरेशनल करने के लिए आइटीबीपी को ही नोडल फोर्स नियुक्त किया गया है। 500 बेड के लिए कितने डाक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ की आवश्यकता है, उसके अनुसार आइटीबीपी व्यवस्था करेगा। गौरतलब है कि दिल्ली सरकार ने केंद्र से यह कोविड केयर सेंटर शुरू करने के लिए स्वास्थ्यकर्मियाें की मांग की थी। इससे पहले भी आइटीबीपी ने इस केंद्र में 2000 बेड पर कोरोना मरीजों का इलाज किया था।

फिलहाल छतरपुर स्थित 12 हजार बिस्तरों वाले देश के इस सबसे बड़े कोरोना केयर सेंटर को कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान अब तक चालू नहीं किया जा सका है। जिला प्रशासन का कहना है कि उसने अपनी तरफ से सारी तैयारियां पूरी कर दी है। जिला प्रशासन के मुताबिक इस बार यहां सिर्फ 5000 बेड की ही व्यवस्था की गई है। इसमें से 200 बिस्तर लगाए जा चुके हैं। 

इस कोविड केयर सेंटर को मालवीय नगर स्थित पंडित मदनमोहन मालवीय अस्पताल से अटैच किया गया है जहां से जरूरी स्वास्थ्य उपकरण मुहैया कराए जाएंगे। मदनमोहन मालवीय अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सैनिटाइजेशन व केयर टेकिंग स्टाफ उपलब्ध कराने के भी निर्देश दे दिए गए हैं। यहां मरीजों के लिए गंभीर हालत में संबद्ध अस्पताल तक पहुंचाने के लिए 10 एंबुलेंस की भी व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं। इतने बड़े केयर सेंटर को संचालित करने के लिए जो श्रमशक्ति की आवश्यकता पड़ेगी वह केंद्र सरकार या सेना द्वारा ही उपलब्ध कराई जा सकती है।

आइटीबीपी कर रही थी अस्पताल का संचालन

पिछले साल 14 जुलाई को केंद्र सरकार द्वारा सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर को 12000 बिस्तरों के साथ शुरू किया गया था। मरीजों की संख्या कम होने के कारण इस साल 22 फरवरी को इसे अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया था। शुरूआत में इसका संचालन आइटीबीपी द्वारा किया जा रहा था। हालांकि अस्पताल में कभी भी पूरी क्षमता से मरीज भर्ती नहीं हुए। इसी कारण केयर सेंटर को फरवरी में बंद कर दिया गया था।

प्लास्टिक लैमिनेटेड गत्ते से बनाए गए हैं बेड

केयर सेंटर में लगे बेड दफ्ती व गत्ते से बने हुए हैं जिन्हें पांच मिनट के अंदर तैयार किया जा सकता है। बेड बनाने में जिस गत्ते का इस्तेमाल किया गया है उसे प्लास्टिक से लेमिनेट किया गया है ताकि एक मरीज के हटनेेे के बाद बेड को दोबारा सैनिटाइज कर इस्तेमाल किया जा सके। बिस्तरों पर भी डिस्पोजबल पालिथिन का इस्तेमाल किया गया है जिससे उन्हें संक्रमणरोधी तत्वों से सैनिटाइज किया जा सके। अस्पताल में कम गंभीर मरीजों के लिए इलाज उपलब्ध होगा। कम आक्सीजन लेवल वाले मरीजों के लिए आक्सीजन भी सुविधा उपलब्ध रहेगी।

राधास्वामी सत्संग ब्यास उपलब्ध कराएगा भोजन

केयर सेंटर चालू होने की सुगबुगाहट के साथ ही राधा स्वामी सत्संग ब्यास ने स्पष्ट कर दिया है कि पिछली बार की तरह ही इस बार भी केयर सेंटर में भर्ती होने वाले मरीजों को सत्संग ब्यास से ही भोजन उपलब्ध कराएगा। आयुष मंत्रालय द्वारा दवाई इत्यादि का वितरण भी किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.