Coronavirus News: कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली में बढ़ाए जाएंगे बेड, अरविंद केजरीवाल ने किया एलान

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की फाइल फोटो।

हालात के मद्देनजर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) ने लोगों से अपील की है कि वे कोविड-19 के प्रॉटोकॉल का पालन करें। बिना वजह अस्पताल नहीं जाएं। अगर आप नियमों के हिसाब से उम्र के दायरे में आते हैं तो कोरोना की वैक्सीन जरूर लें।

Jp YadavMon, 12 Apr 2021 10:10 AM (IST)

नई दिल्ली, एएनआइ। राजधानी दिल्ली में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के मद्देनजर आम आदमी पार्टी सरकार बेड में इजाफा करेगी। दिल्ली में कोरोना के हालात के मद्देनजर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) ने सोमवार दोपहर अहम बैठक बुलाई थी। इसमें स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के अलावा स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी भी शामिल हुए।  बैठक के बाद अरविंद केजरीवाल ने बताया कि हम सरकार और निजी दोनों ही तरह के अस्पतालों में बेड की संख्या में इजाफा करने के लिए कदम उठाएंगे।

इसी के साथ अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अपील की है कि वे कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करें। बिना वजह अस्पताल नहीं जाएं। अगर आप नियमों के हिसाब से उम्र के दायरे में आते हैं तो कोरोना की वैक्सीन जरूर लें। बता दें कि रविवार को ही 24 घंटे के दौरान कोरोना के 10,774 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद कोरोना केस 7,25,197 पहुंच गए हैं। 


ये भी पढ़ेंः DTC बसों में कोरोना के कारण यात्रियों की संख्या कम की गई, अब सिर्फ इतनी सीटों पर बैठ सकते हैं लोग

वहीं, राजधानी दिल्ली में बढ़े संक्रमण के बीच विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना की यह लहर अभी और कहर ढा सकती है। प्रतिदिन मिलने वाले मरीजों की संख्या 15 हजार तक पहुंचने की आशंका जताई जा रही है। ऐसे में दिल्ली सरकार की नींद उड़ी हुई। यही वजह है कि दिल्ली सरकार ने न सिर्फ छोटे अस्पतालों को कोरोना मरीजों के इलाज की अनुमति दी है, बल्कि बेड की संख्या 18 से 20 हजार तक ले जाने की कवायद भी शुरू कर दी है।

Lockdown in Delhi ! अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में लॉकडाउन को लेकर फिर दिया बड़ा बयान

मुख्य सचिव के स्तर पर कुछ दिन पहले हुई बैठक में तय हुआ है कि होम आइसोलेशन के लिए व्यवस्थाएं बेहतर की जाएं। पूर्व के अनुभवों को देखते हुए पिछली बार रह गई कमियों को दूर किया जाए। होम आइसोलेशन वाले मरीजों से इस बार फोन पर प्रतिदिन जानकारी ली जाए और उनकी सुविधाएं बढ़ाने पर भी विचार किया जा रहा है। गत दो मार्च को दिल्ली में 777 कोरोना के मरीज होम आइसोलेशन में थे। 11 अप्रैल को यह संख्या 17 हजार 93 पहुंच गई।

सामने आ रहा है किसान आंदोलन के फेल होने का सबसे बड़ा कारण, निकला विदेशी कनेक्शन

दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि होम आइसोलेशन की व्यवस्था को मजबूत किया जा रहा है। इस बारे में स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए गए हैं। रविवार को दिल्ली में 10732 मरीज मिले हैं। संक्रमण की गति को देखते हुए विशेष मान रहे हैं कि अभी मामले और अधिक तेजी से बढ सकते हैं।

देश के चर्चित विशेषज्ञ डॉक्टर ने बताया- आखिर कैसे 3-4 हफ्ते में खत्म हो सकती है कोरोना की लहर

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.