top menutop menutop menu

Coronavirus LockDown Shab-e-Barat: शब-ए-बरात में बाहर निकले तो होगा एक्शन पुलिस का फरमान

नई दिल्ली, एएनआइ। Coronavirus LockDown Shab-e-Barat : दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के चलते आगामी 14 अप्रैल तक जारी रहने वाले लॉकडाउन को लेकर दिल्ली पुलिस पूरी तरह से सख्ती बरत रही है। वहीं, शब-ए-बरात के दौरान 8 और 9 अप्रैल को लॅाकडाउन का उल्लंघन नहीं हो, इसे लेकर दिल्ली  पुलिस पूरी तरह से सतर्क है।

पुलिस की एडवायजरी, लोग घरों से न निकलें

दिल्ली पुलिस की पूरी कोशिश है कि लॉकडाउन की स्थिति में शब-ए-बरात के दौरान लोग घरों में रहें, क्योंकि भीड़ में जुटने पर कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। यूं भी समूची दिल्ली में धारा-144 लागू है और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने पर धारा-188 के तहत कार्रवाई की जा रही है। अब पुलिस ने एडवाइजरी जारी कर लोगों को घरों से बाहर नहीं निकालने की अपील की है।

आयोजन करने पर रोक

दिल्ली पुलिस द्वारा जारी एडवायजरी में साफ-साफ कहा है कि लॉकडाउन होने के चलते किसी तरह का कोई आयोजन करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। अगर किसी ने ऐसा किया तो उसके खिलाफ सख्त धाराओं के तहत कार्रवाई को अंजाम दिया जाएगा।

तब्लीगी जमात की घटना के बाद मुस्लिम धर्मगुरु भी एहतियात बरत रहे हैं और उन्होंने शब-ए-बरात के दौरान लोगों से घरों से बाहर नहीं निकलने की अपील जारी की है। मुस्लिम धर्म गुरुओं और मौलानाओं ने भी लोगों से गुजारिश की है कि वे अपने घरों में ही रह कर शब-ए-बरात मनाएं। बाहर निकले की कोई जरूरत नहीं है।

बता दें कि दिल्ली में पिछले एक सप्ताह के दौरान कोरोना वायरस से होने वाले संक्रमित में इजाफा हुआ है। इसमें तब्लीगी मकरज से जुड़े जमाती भी शामिल हैं। ऐसे में दिल्ली पुलिस कोई खतरा नहीं मोल लेना चाहती कि लोग शब-ए-बरात पर घरों से निकले और कोरोना वायरस की चपेट में आ जाएं। 

गौरतलब है कि दिल्ली में ही कोरोना संक्रमण से अब तक 9 लोगों की मौत हो चुके हैं, जबकि 576 लोगों को अस्पतालों में इलाज चल रहा है। वहीं, हजारों की संख्या में लोग घरों, स्कूलों में क्रारंटाइन हैं। 


 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.