मासूमों पर बरपा कोरोना महामारी का कहर: बीमारी के कारण 273 बच्चे हुए अनाथ

कोरोना महामारी का कहर मासूमों पर इस कदर बरपा है कि उनके सिर से माता-पिता का साया ही छिन गया। राजधानी में 273 बच्चे ऐसे हैं जो कोरोना के चलते अनाथ हो गए। ये आंकड़े दिल्ली सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने बताया है।

Prateek KumarThu, 29 Jul 2021 05:21 PM (IST)
राजधानी में 5640 ऐसे बच्चे हैं जिनके सिर से माता-पिता का साया उठ गया।

नई दिल्ली, रीतिका मिश्रा। कोरोना महामारी का कहर मासूमों पर इस कदर बरपा है कि उनके सिर से माता-पिता का साया ही छिन गया। राजधानी में 273 बच्चे ऐसे हैं जो कोरोना के चलते अनाथ हो गए। ये आंकड़े दिल्ली सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने अधिवक्ता मोहित कुमार गुप्ता को सूचना के अधिकार (आरटीआइ) के तहत मांगी गई जानकारी में उपलब्ध कराए हैं।

पांच हजार से ज्यादा बच्चे जिनके सिर से उठा हाथ किसी एक शख्स का हाथ

विभाग ने आरटीआइ में ये भी बताया कि कोरोना के चलते राजधानी में 5640 ऐसे बच्चे हैं जिनके सिर से माता या पिता में किसी एक का साया उनके सिर से उठ गया। विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गए ये आंकड़े 27 जुलाई 2021 के है। वहीं, इन बच्चों के पुनर्वास, उनके रहने एवं खाने की क्या व्यवस्था के सवाल पर विभाग की तरफ से कहा गया कि उनके पास इस संबंध में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

सभी संबंधित विभाग के सूचना अधिकारी को सवाल के जवाब के लिए आरटीआइ भेज दी गई है। हालांकि, संबंधित विभागों से इस संबंध में अभी तर कोई जानकारी उपलब्ध नहीं कराई गई है। वहीं, आयोग ने ये आंकड़े दिल्ली के सभी जिलों में कार्यरत बाल संरक्षण अधिकारी, बाल कल्याण समितियों, एकीकृत बाल विकास योजना (आइसीडीएस) के तहत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ- साथ अन्य माध्यमों से जुटाए हैं।

देशभर में 3621 बच्चे हुए अनाथ

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने 7 जून 2021 को सुप्रीम कोर्ट में बताया था कि 1 अप्रैल 2020 से 5 जून 2021 तक देशभर में 3621 बच्चे अनाथ हुए हैं। वहीं, 26176 बच्चें ऐसे हैं जिनके सिर से माता या पिता में किसी एक का साया उनके सिर से उठ गया। आयोग ने बताया कि इसमें दिल्ली में पांच बच्चे अनाथ हुए है। वहीं, 12 बच्चे ऐसे हैं जिनके माता या पिता में से किसी एक की मृत्यु हुई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.