कोरोना की मौजूदा लहर में दिल्ली वालों के लिए अतुलनीय रहीं सेवा भारती की मदद

Delhi Coronavirus कोरोना की इस लहर में संक्रमित लोग इलाज और आक्सीजन के लिए तड़प रहे थे। इस स्थिति की कल्पना सेवा भारती ने नहीं की थी। सो शुरू में थोड़ी कठिनाई आई। मदद के जतन किए गए। लोगों को जोड़ा गया। इसके बाद मदद का सिलसिला चला।

Prateek KumarMon, 14 Jun 2021 06:45 AM (IST)
दो लाख से अधिक लोगों तक पहुंचाई खाद्य सामग्री, एक लाख से अधिक पैकेट काढ़ा वितरण

नई दिल्ली [नेमिष हेमंत]। कोरोना की मौजूदा लहर में भी दिल्ली वालों के लिए सेवा भारती की मदद अतुलनीय रहीं। भोजन, राशन, काढ़ा, मास्क व सैनिटाइजर के वितरण के साथ ही इस बार तो सेवा भारती के स्वयंसेवक संक्रमित लोगों के इलाज में भी जुटे नजर आए। अपने जान की परवाह न करते हुए सरकारी अस्पतालों में डाक्टर व चिकित्सकीय स्टाफ के सहयोग के लिए तत्पर रहे। यहीं नहीं समाज के सहयोग से खुद के कोविड केयर सेंटर तैयार कर दिए। जरूरत पड़ी तो दिल्ली की सड़कों पर मोबाइल आक्सीजन सेवा लेकर दौड़ पड़े। आपदा के अवसर पर इस तरह का जज्बा न सिर्फ अभूतपूर्व था, बल्कि जिंदगी भर न भूलने वाला लम्हा है।

इसके पहले पहले लाकडाउन में भी दिल्ली वालों ने सेवा भारती के इस जज्बे को सलाम किया था। तब आवश्यकता जरूरी सामान, खाने-पीने की वस्तुओं और दवाओं की थी, लेकिन इस बार तो संक्रमित लोग इलाज और आक्सीजन के लिए तड़प रहे थे। इस स्थिति की कल्पना सेवा भारती ने नहीं की थी। सो शुरू में थोड़ी कठिनाई आई। मदद के जतन किए गए। लोगों को जोड़ा गया। सामाजिक, औद्योगिक, धार्मिक, व्यापारिक समेत अन्य संगठनों को साथ लाया गया। हाथ से हाथ जोड़कर चंद दिनों में ऐसी व्यवस्था खड़ी कर दी गईं, जिसकी मिसाल मिलनी मुश्किल है। मौजूदा कोरेाना सेवा कार्य में कुल 9,352 स्वयंसेवक जुटे।

एक नजर

-भोजन/ राशन पैकेट वितरण- 2,13,377, लाभांवित परिवार- 33,162

मास्क वितरण-46,895, सैनिटाइजर-9,523

काढ़ा-1,10,280

रक्त सेवा -रक्त यूनिट-1502, प्लाज्मा लाभार्थी- 1412

डाक्टर परामर्श-उपलब्ध डाक्टर 662-लाभार्थी लोग: 30,580

सरकारी कोविड केयर सेंटर में सेवा: 36, सक्रिय कार्यकर्ता: 289

टीकाकरण के लिए जनजागरण कार्यक्रम 665, कार्यकर्ता 1197

डिजिटल हेल्पलाइन-उत्कर्ष भारत मोबाइल एप-मदद: 26,040 व सक्रिय कार्यकर्ता: 1730

टेली हेल्पलाइन-35,260, सक्रिय कार्यकर्ता:1445

मोबाइल आक्सीजन सेवा वाहन संख्या: आठ, लाभार्थी संख्या: 452

आक्सीजन वितरण- सिलेंडर-3,778, कंसेंट्रेटर सेवा: 211

बुजुर्गों की देखभाल: 1445

कोविड केयर सेंटर: 23, लाभार्थी:546, आक्सीजन बेड:372 कार्यकर्ता: 310

एंबुलेंस संख्या-66, शव वाहन-चार, लाभार्थी: 1130

अंतिम संस्कार में सेवा-1,394, सेवारत कार्यकर्ता-864

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.