Oxygen Shortage in Delhi: दिल्‍ली में ऑक्‍सीजन संकट के बीच केजरीवाल ने दी राहत भरी खबर, मोदी सरकार का जताया आभार

केंद्र सरकार ने बढ़ाया दिल्ली में आक्सीजन का कोटा।

दिल्ली में कोरोना मरीजों की सांसों पर आ रही आफत को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। केंद्र ने दिल्ली का ऑक्सीजन कोटा बढ़ा दिया है। इसके लिए सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार का धन्यवाद भी जताया है।

Prateek KumarWed, 21 Apr 2021 07:43 PM (IST)

नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली में कोरोना मरीजों की सांसों पर आ रही आफत को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। केंद्र ने दिल्ली का ऑक्सीजन कोटा बढ़ा दिया है। इसके लिए सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार का धन्यवाद भी जताया है। बता दें कि दिल्ली के कुछ अस्पतालों में बीते कुछ दिनों से ऑक्सीजन की किल्लत हो रही थी। अब केंद्र सरकार ने दिल्ली का ऑक्सीजन कोटा 378 मेट्रिक टन रोजाना से बढ़ाकर 480 मेट्रिक टन रोजाना कर दिया है।

लगातार ऑक्सीजन की जरूरत

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया से लेकर सीएम केजरीवाल पिछले कुछ दिनों से केंद्र से लगातार ऑक्सीजन सप्लाई बढ़ाने की मांग कर रहे थे। दिल्ली में लगातार कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ने के कारण कई लोग अस्पताल में भर्ती हो गए हैं। इन्हें लगातार ऑक्सीजन की जरूरत हो रही है जो अमूमन औसत खपत से ज्यादा है। इसके कारण दिल्ली के कई बड़े अस्पताल में ऑक्सीजन मात्र चंद घंटे का ही बचा हुआ है। यहां पर कोविड के मरीज भर्ती हैं।

डिप्टी सीएम ने की थी 700 मीट्रिक टन बढ़ाने की डिमांड

ऑक्सीजन की कमी को लेकर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि ऑक्सीजन को लेकर दो तरह की समस्याएं आ रही हैं। पहली जो हमें मिल रही है वह कम है दूसरी यह कि इस समय आक्सीजन की जरूरत बहुत ज्यादा बढ़ी हुई है। हमने केंद्र से मांग की है कि दिल्ली का अभी का 378 मीट्रिक टन का कोटा है जिसे 700 मीट्रिक ट्रन कर दिया जाए। फिलहाल ऑक्सीजन का दिल्ली का जितना कोटा केंद्र सरकार ने निर्धारित किया है। उतनी ऑक्सीजन भी दिल्ली में नहीं आ पा रही है। उसे रोका जा रहा है। आज फिर एक अस्पताल के सामने सामने समस्या खड़ी हो गई। फरीदाबाद के जिस प्लांट से दिल्ली के इस अस्पताल में ऑक्सीजन आती थी, हरियाणा सरकार के एक अधिकारी ने प्लांट में जाकर उसे रुकवा दिया। कल रात भी मोदी नगर से जीटीबी अस्पताल में आने वाली ऑक्सीजन को नहीं आने दिया गया। हमारी सरकार के मंत्री ने केंद्र सरकार के मंत्री से निवेदन किया और उन्हें पूरी बात बताई तो ट्रक आ सका। यह ठीक स्थिति नहीं है। कोई राज्य ऑक्सीजन को क्यों रोक रहा है।

हरियाणा सरकार के ऑक्सीजन का ट्रक लूटने के आरोप पर

केंद्र सरकार यह तय करती है कि किस राज्य को कितनी ऑक्सीजन मिले उसका कोटा कितना हो। कोई राज्य यह तय नहीं करता है कि किसे आक्सीजन मिलेगी या नहीं मिलेगी। इसलिए मैं हरियाणा सरकार के मंत्री के बयान पर पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं। जो ऑक्सीजन दिल्ली सरकार के कोटे की है वही आ रही है। उसे भी आने नहीं दिया जा रहा है। हम केंद्र सरकार से लगातार मांग कर रहे हैं कि दिल्ली का कोटा बढ़ाया जाए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.