कांग्रेस में हुआ बड़ा बदलाव, दिल्‍ली महिला कांग्रेस की अध्‍यक्ष बनीं अमृता धवन

दिल्‍ली महिला कांग्रेस की अध्‍यक्ष बनीं अमृता धवन। फाइल फोटो।
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 07:59 PM (IST) Author: Prateek Kumar

नई दिल्‍ली, जागरण संवाददाता। Amrita Dhawan: दिल्‍ली कांग्रेस में गुरुवार को बड़ा बदलाव हुआ है। युवा महिला नेत्री अमृता धवन को दिल्‍ली महिला कांग्रेस का अध्‍यक्ष बनाया गया है। इससे पहले पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्‍ठा मुखर्जी संभाल रही थी। कांग्रेस अपने आंतरिक द्वंद से निकल नहीं पा रही है। ऐसे में कांग्रेस में यह कदम पार्टी को बड़ा फायदा दे सकता है। कांग्रेस एक नए और युवा चेहरे पर इस बार दांव लगाया है। पार्टी नए चेहरे से अपनी छवि को बेहतर बनाने का प्रयास करेगी वहीं अपनी दिल्‍ली में खोई जमीन को पाने का आधार तलाशेगी।

कौन है अमृता धवन

अमृता धवन भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) की राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष रही थीं। वह डूसू की अध्‍यक्ष पद पर रह चुकी हैं। जब अमृता को एनएसयूआइ की अध्‍यक्ष बनी थीं तब वह छात्र-छात्राओं के लिए काफी काम किया। हर वक्‍त वह उनकी मदद के लिए उपलब्‍ध रहती थीं। खासकर युवाओं का साथ उन्‍हें खूब मिलता था। देश भर में ज्‍यादा-ज्‍यादा से छात्रों को संगठन से जोड़ने के लिए उन्‍होंने खूब प्रयास किया था।

दिल्‍ली के भारती कॉलेज से की है पढ़ाई

अमृता मूल रूप से दिल्ली निवासी हैं। अमृता 2004 में दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ (डूसू) सचिव, 2005 में डूसू उपाध्यक्ष और 2006 में डूसू अध्यक्ष बनीं। उन्होंने भारती कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के बाद कैंपस लॉ सेंटर से कानून की पढ़ाई की है।

सोनिया गांधी ने की नियुक्‍ति

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने मीडिया से मुखतिब होते हुए बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अमृता धवन को दिल्ली प्रदेश महिला कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त किया है। वह शर्मिष्‍ठा मुखर्जी के बाद इस पद को संभालेंगी। 

बता दें कि दिल्‍ली विधानसभा में कांग्रेस को करारी हार के बाद से ही पार्टी में बदलाव के कयास लगाए जा रहे थे। पार्टी अपनी खोए हुए जनाधार को वापस पाना चाह रही है। दिल्‍ली में फिलहाल आम आदमी पार्टी की सरकार है। इसके मुखिया अरविंद केजरीवाल हैं। दिल्‍ली में कुल 70 विधानसभा सीट है, जिसमें से आम आदमी पार्टी को 62 और भारतीय जनता पार्टी को 8 सीटें मिली हैं। जबकि कांग्रेस कोई भी खाता नहीं खोल पाई है।  

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.