Delhi School Reopen: दिल्ली में 29 नवंबर से खुलेंगे सभी कक्षाओं के लिए स्कूल, शिक्षा मंत्री ने जारी किया निर्देश

Delhi School Reopen दिल्ली में 29 नवंबर 2021 से सभी कक्षाओं के लिए स्कूल खुल जाएंगे। दिल्ली सरकार ने इस बाबत लेटर जारी कर जानकारी दी। डिप्टी सीएम एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर यह जानकारी खुद दी है।

Prateek KumarSat, 27 Nov 2021 06:06 PM (IST)
दिल्ली सरकार ने इस बाबत लेटर जारी कर जानकारी दी।

नई दिल्ली, एएनआइ। Delhi School Reopen: दिल्ली में 29 नवंबर 2021 से सभी कक्षाओं के लिए स्कूल खुल जाएंगे। दिल्ली सरकार ने इस बाबत लेटर जारी कर जानकारी दी। शिक्षा मंत्री ने ट्वीट कर बताया कि राजधानी में स्कूल 29 नवंबर  (सोमवार) से खुलेंगे। बता दें कि दिल्ली में स्कूल प्रदूषण के बढ़ते स्तर के कारण बंद कर दिए गए थे। कोर्ट से लेकर सरकार तक सभी ने दिल्ली-एनसीआर में स्कूल को बंद करने पर सहमति जताई थी जिसके बाद बच्चों को प्रदूषण से बचाने के लिए स्कूलों को अगले आदेश तक के लिए बंद कर दिया गया था। हालांकि, बाद में सरकार ने बुधवार को इस बाबत यह जानकारी दी थी 29 नवंबर से सभी स्कूल खुल जाएंगे। इसी कड़ी में शिक्षा मंत्री ने बताया कि सभी कक्षाओं के लिए स्कूल सोमवार से खुलेंगे। इससे पहले भी सरकार ने प्रदूषण को लेकर कुछ प्रतिबंध लगाए थे बाद में प्रदूषण कम होते ही राहत दी। 

इससे पहले प्रदूषत को देखते हुए सरकार ने यह लिया था बड़ा फैसला

वर्क फ्राम होम खत्म, 29 नवंबर से दफ्त आएंगे कर्मचारी स्कूल खोले जाएंगे साथ ही कालेज और कोचिंग सेंटर भी खुलेंगे। जहां पर ज्यादा कर्मचारी रहते हैं वहां पर बसों का संचालन होगा, कर्मचारी बसों के जरिये आवाजाही करेंगे। दिल्ली में सभी सीएनजी, इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रवेश की अनुमति मिल गई है। वायु प्रदूषण के मद्देनजर 3 दिसंबर तक ट्रकों समेत अन्य सभी वाहनों पर रोक रहेगी। गुलाबी बाग, निमड़ी कालोनी इत्यादि ऐसी जगहों, जहां सरकारी कर्मचारी ज्यादा रहते हैं, वहां पर्यावरण बस सेवा लगाई जाएगी आइटीओ, केंद्रीय सचिवालय सहित प्रमुख जगहों के मेट्रो स्टेशनों पर शटल सेवा लगाई जाएगी ताकि लोग आसानी से दफ्तर पहुंच सकें निर्माण कार्यों पर काम करने की इजाजत दी जा चुकी है, लेकिन सभी जगह नियमों का पालन अनिवार्य है अन्यथा कार्रवाई की जाएगी

बच्चों को संविधान प्रदत्त अधिकार व कर्तव्य बताए

भारतीय संविधान दिवस के अवसर पर यमुनापार में कई जगहों पर सामाजिक संस्थाओं ने जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया। शाहदरा में श्री श्री मरुत नंदन सेवा संस्था ने कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रन फाउंडेशन के सहयोग से जिला प्रशासन के साथ मिलकर बच्चों को अपने अधिकारों और कर्तव्यों के प्रति जागरूक किया। इसमें शाहदरा जिले की 13 आंगनबाड़ी और 10 स्कूलों के 300 से अधिक बच्चों ने हिस्सा लिया। इस दौरान बच्चों को संविधान प्रदत्त अधिकारों और कर्तव्यों का पालन करने की शपथ भी दिलाई गई। श्री श्री मरुत नंदन सेवा संस्था की संस्थापक रचना सचदेवा ने कहा कि उनका उद्देश्य देश की भावी पीढ़ी को संविधान की मूल आत्मा से परिचित कराते हुए उन्हें उनके कर्तव्य और अधिकारों की जानकारी देना है, ताकि वह भविष्य में एक बेहतर नागरिक बन सकें। इस मौके पर बच्चों ने मिलकर सरल और स्थानीय भाषा में संविधान की प्रस्तावना का पाठ किया।

उधर, सरस्वती एजुकेशनल सोसाइटी और कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रन फाउंडेशन की टीम ने लक्ष्मी नगर, शकरपुर, त्रिलोकपुरी, कल्याणपुरी, यमुना खादर, संजय झील के पास झुग्गी बस्ती के बच्चों को हंिदूी भाषा में संविधान की प्रस्तावना पढ़ाई। इस अवसर पर संस्था अध्यक्ष अमित मिश्र ने बच्चों को संविधान का पालन करने की शपथ दिलाई। साथ ही उन्हें न्याय, समानता, स्वतंत्रता और बंधुत्व के मूल्यों को स्थापित करने के प्रति जागरूक भी किया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.