Delhi Coronavirus: एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा- 2 कारणों से तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस

देश में कोरोना काफी तेजी से फैल रहा है।

AIIMS देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि कोविड के केसों की बढ़ने के कई कारण हैं मगर मुख्य कारण पर गौर करें तो यह पता चलेगा कि दो ही वजहों के कारण कोरोना तेजी से फैला है।

Prateek KumarSat, 17 Apr 2021 04:33 PM (IST)

नई दिल्ली, एएनआइ। देश में कोरोना काफी तेजी से फैल रहा है। ऐसे में दिल्ली भी इससे अछूता नहीं है। राजधानी में भी लगातार केस काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि कोविड के केसों की बढ़ने के कई कारण हैं मगर मुख्य कारण पर गौर करें तो यह पता चलेगा कि दो ही मुख्य वजह रही, जिसके कारण कोरोना तेजी से फैला है। गुलेरिया के मुताबिक जनवरी-फरवरी में जब वैक्सीनेशन शुरू हुआ तब लोग कोरोना के प्रोटोकॉल को लेकर ढिलाई बरतनी शुरू कर दी। वहीं, इसी दौरान वायरस में म्यूटेशन (बदलाव) हो गया जो काफी तेजी से फैल गया। इसी कारण वायरस इस बार तेजी से फैला है। बता दें कि कई बार लोग बिना मास्क के ही बाहर निकल जाते हैं।

कुंभ एवं चुनाव पर भी कही ये बात

उत्तराखंड में कुंभ मेला आयोजित हो रहा है। ऐसे में वहा काफी तेजी से कोरोना के संक्रमण की बात सामने आ रही है। वहीं कुंभ में कोरोना से एक महामंडलेश्वर की मौत हो गई है। कई लोग संक्रमित मिले हैं। इस पर गुलेरिया ने कहा कि जब देश में कई धार्मिक काम हो रहे हैं और चुनाव भी चल रहा है तो इस स्थिति में हमें यह समझना होगा कि जिंदगी ज्यादा महत्वपूर्ण है। हम यह सभी कोविड प्रोटोकॉल के तहत भी कर सकते हैं। इस तरीके से काम भी होगा और बीमारी फैलने से भी रुक जाएगी।

वैक्सीन पर सवाल का दिया जवाब

जब यह पूछा गया कि वैक्सीन लेने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे हैं ऐसे में वैक्सीन की उपयोगिता क्या है। इस पर उन्होंने सभी का भ्रम दूर करते हुए कहा कि वैक्सीन को लेकर कई तरह की बातें हैं। गुलेरिया ने कहा कि हमें यह याद रखना होगा कि कोई भी वैक्सीन सौ फीसद कारगर नहीं है। आप संक्रमित हो सकते हैं, लेकिन हमारे शरीर के एंटीबाडी वायरस को बढ़ने नहीं देंगे। इससे यह फायदा जरूर होगा कि आप गंभीर रूप से बीमार नहीं पड़ेंगे।

सभी लगाएं वैक्सीन

रणदीप गुलेरिया ने यह भी लोगों से अपील की है कि जो भी लोग वैक्सीनेशन के लिए पात्रता रखतें हैं उन्हें आगे आकर वैक्सीन लेनी चाहिए। ज्यादा-से-ज्यादा लोग वैक्सीन लेंगे तब ही इस बीमारी को हम हरा सकेंगे। बता दें कि दिल्ली में कोरोना पिछली बार कि तुलना में काफी ज्यादा फैल रहा है। इस बार इस महामारी के चपेट में काफी लोग आ रहे हैं। बीमारी का संक्रमण दर 19 फीसद के करीब है। इस कारण दिल्ली के सारे पुराने रिकॉर्ड तोड़कर कोरोना के 19,486 के नए मामले शुक्रवार को मिले। वहीं देश में भी कोरोना का हाल काफी ज्यादा ही खराब है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, बीते 24 घंटे में देश में 2,34,692 नए संक्रमित मिले हैं। वहीं 1,341 लोगों की मौत हुई है। इसके बाद देश में अब तक कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1,45,26,609 पहुंच गया है।

ये भी पढ़ेंः दिल्ली में कोरोना के नए मामलों ने फिर तोड़ा रिकॉर्ड, सीएम केजरीवाल ने मांगी केंद्र से मदद

बता दें कि एक स्वास्थ्यकर्मी ने बताया कि कई लोग बीमारी के लक्षण के बावजूद जानकारी सामने नहीं आने देते हैं। इस कारण वह दूसरों के लिए खतरा बनते हैं। वहीं सरकार कांटेक्ट ट्रेसिंग पर लगातार जो देती रही है। कांटेक्ट ट्रेसिंग के मामले में पिछले कुछ दिनों से ढिलाई बरती जा रही है। यह भी जानकारी आई कि हाल में ही दिल्ली के कालकाजी में रहने वाले एक शख्स जब संक्रमित हुए तब उनके कांटेक्ट ट्रेसिंग के मामले में प्रशासन ने ढिलाई बरती।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.