Kangana Ranaut : दिल्ली विधानसभा समिति के सामने नहीं पेश हुईं एक्ट्रेस कंगना रनौट, मांगा और समय

Kangana Ranaut Dispute बालीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौट के दिल्ली विधानसभा की शांति एवं सद्भाव समिति के समक्ष पेश होने को लेकर असमंजस बरकरार है क्योंकि उनके दिल्ली पहुंचने की सूचना नहीं है। ऐसे में समिति की ओर से एक और नोटिस जारी किया जा सकता है।

Jp YadavMon, 06 Dec 2021 07:59 AM (IST)
Kangana Ranaut : दिल्ली विधानसभा समिति के सामने एक्ट्रेस कंगना रनौट की पेशी आज

नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। अभिनेत्री कंगना रनौत सोमवार को दिल्ली विधानसभा की शांति एवं सद्भाव समिति के सामने पेश नहीं हुईं। उनका बाकायदा अनुरोध कर पेशी के लिए अतिरिक्त समय मांगा है। इस बाबत समिति के अध्यक्ष राघव चड्ढा ने बताया कि कंगना ने अपने बयान के लिए दिल्ली विधानसभा शांति समिति से और समय मांगा है। उसने इसके लिए व्यक्तिगत और पेशेवर कारणों का हवाला दिया है। समिति उसके अनुरोध पर संज्ञान लेगी और उसकी उपस्थिति के लिए एक नई तारीख अधिसूचित करेगी।

बता दें कि आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा की अध्यक्षता वाली इस समिति ने कंगना रनौट को सिख समाज को लेकर की गई उनकी अप्रिय और अपमानजनक टिप्पणी के कारण यह समन जारी किया है।

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के  विधायक और दिल्ली विधानसभा की शांति और सद्भाव समिति के अध्यक्ष राघव चड्ढा ने बालीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को समन जारी किया है। इसमें कंगना को 6 दिसंबर को दोपहर 12:00 बजे समिति के सामने पेश होने के लिए कहा गया था, लेकिन उन्होंने अब पेशी के लिए अतिरिक्त समय मांगा है।   

बता दें कि दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने इंस्टाग्राम पर सिख समुदाय के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसी मामले में एक एफआइआर मुंबई में भी दर्ज है। 

वहीं, राघव चड्ढा का मानना है कि इंटरनेट मीडिया पर पिछले दिनों किए गए अपने पोस्ट में रनौट ने जानबूझकर किसान प्रदर्शनकारियों के धरने को ‘खालिस्तानी आंदोलन' बताया है। इसके साथ यह भी आरोप है कि कंगना रनौट ने सिख समुदाय की भावनाओं को आहत करने के लिए जानबूझकर वह पोस्ट तैयार किया गया और आपराधिक मंशा से उसे साझा किया गया।

यहां पर बता दें कि कंगना रनौट अपने विवादित बयानों के चलते लगातार चर्चा में बनी रहती हैं। इसके चलते उनके खिलाफ देश भर के विभिन्न शहरों में केस दर्ज हो चुके हैं। इनमें से ज्यादातर आपत्तिजनक बयानों के हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.