प्रदूषण के लिए बेहवजह किसानों को बदनाम कर रही आम आदमी पार्टी: बिधूड़ी

भाजपा ने आरोप लगाया है कि अपनी नाकामी छिपाने के लिए आम आदमी पार्टी (आप) सरकार दोषारोपण की राजनीति कर रही है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि प्रदूषण की समस्या के लिए बेवजह आप सरकार ने किसानों को बदनाम किया है।

Pradeep ChauhanMon, 29 Nov 2021 04:39 PM (IST)
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को किसानों से माफी मांगनी चाहिए।

नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। भाजपा ने आरोप लगाया है कि अपनी नाकामी छिपाने के लिए आम आदमी पार्टी (आप) सरकार दोषारोपण की राजनीति कर रही है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि प्रदूषण की समस्या के लिए बेवजह आप सरकार ने किसानों को बदनाम किया है। अब कहीं पराली नहीं जल रही है लेकिन राजधानी में प्रदूषण की समस्या गंभीर बनी हुई है। इससे स्पष्ट है कि दिल्ली सरकार की नाकामी की वजह राजधानी की हवा जहरीली हो रही है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को किसानों से माफी मांगनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सहित उनकी सरकार के अन्य मंत्री व आप नेता दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसानों को राजधानी में प्रदूषण के लिए जिम्मेदार ठहराते रहे हैं। वह आरोप लगाते थे कि किसान पराली जला रहे हैं जिससे वायु प्रदूषण बढ़ रहा है। इसके विपरीत अब पराली जलाने की घटना नहीं हो रही, लेकिन दिल्ली का प्रदूषण खतरनाक श्रेणी में बना हुआ है। सोमवार को भी दिल्ली में एयर क्वालिटी इंडेक्स 400 से पार रहा। दिल्ली की जनता जहरीली हवा में सांस लेने के लिए मजबूर है। दिल्ली के प्रदूषण की जिम्मेदारी से बचने के लिए अब सरकार के पास कोई बहाना नहीं है।

उन्होंने कहा कि यह वैज्ञानिक रूप से भी प्रमाणित हो चुका है कि दिल्ली के प्रदूषण में पराली का बहुत कम हिस्सा होता है। कई आप नेता यह झूठ प्रचारित कर रहे थे कि भाजपा ने दीपावली पर लोगों को पटाखे चलाने के लिए प्रेरित किया और इसी कारण प्रदूषण फैला। अब न तो पराली है और न ही पटाखों का प्रदूषण है। दिल्ली सरकार को बताना चाहिए कि आखिर अब दिल्ली में प्रदूषण कहां से हो रहा है?

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.