दिल्ली नगर निगम चुनाव में जुटी आम आदमी पार्टी को लगा झटका, AAP पार्षद ने थामा हाथ

श्रीराम कालोनी वार्ड 64-ई से आम आदमी पार्टी की निगम पार्षद साहिस्ता के साथ उनके कई साथी कार्यकर्ताओं ने भी कांग्रेस का हाथ थाम लिया। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष अली मेहदी बाबरपुर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कैलाश जैन जिला समन्वयक हर्ष चौधरी भी मौजूद थे।

Jp YadavThu, 28 Oct 2021 09:26 AM (IST)
दिल्ली नगर निगम चुनाव में जुटी आम आदमी पार्टी को लगा झटका, AAP पार्षद ने थामा 'हाथ'

नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। अगले साल होने वाले दिल्ली नगर निगम चुनाव 2022 (Delhi Municipal Corporation Election 2022) को लेकर अभी से सभी राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है। इसी के साथ नेताओं का दलबदल अभियान भी जोरों पर है। ताजा मामले में श्रीराम कालोनी वार्ड 64-ई से आम आदमी पार्टी की निगम पार्षद साहिस्ता ने बुधवार को झाड़ू छोड़ हाथ थाम लिया। 

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अनिल चौधरी (Delhi Pradesh Congress Committee President Anil Chaudhary) ने उन्हें प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में उन्हें को कांग्रेस में शामिल कराया। इस अवसर पर अनिल चौधरी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की निरंकुशता के चलते आम आदमी पार्टी में किसी को भी अभिव्यक्ति की आजादी नहीं है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल के स्वयंभू रवैये से AAP पार्टी का प्रत्येक कार्यकर्ता प्रभावित है और किसी भी जनप्रतिनिधि को अपने हिसाब से क्षेत्र में काम करने की आजादी नहीं है, पूरा नियंत्रण अरविन्द के हाथों में है, यह सभी जानते हैं। 

साहिस्ता के साथ उनके कई साथी कार्यकर्ताओं ने भी कांग्रेस का हाथ थाम लिया। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष अली मेहदी, बाबरपुर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कैलाश जैन, जिला समन्वयक हर्ष चौधरी भी मौजूद थे। 

वहीं, निगम पार्षद साहिस्ता ने यह भी कहा कि आम आदमी पार्टी में वह समय से घुटन महसूस कर रही थीं। उन्होंने यह भी स्वीकारी की कांग्रेस पार्टी की नीतियों और विचारधारा में उनका हमेशा से ही विश्वास रहा है।

यह भी पढ़ेंः हरियाणा की मशहूर डांसर और एक्ट्रेस को मिली जान से मारने की धमकी, नारनौल में दर्ज कराई FIR

 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के प्रभावशाली नेतृत्व से प्रभावित होकर मैं अपने साथियों के साथ कांग्रेस पार्टी में शामिल हुई हुं। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल के अलावा आप पार्टी में किसी का वजूद नहीं है, ऐसा मैंने महसूस किया है।

यह भी पढ़ेंः राकेश टिकैत से भिड़े हरियाणा के परिवहन मंत्री, भाजपा विधायक सीमा त्रिखा व सूरजपाल अम्मू से भी हुई तीखी बहस

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.