दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

तेजी से सुधर रहे दिल्ली में हालात, 24 घंटे के दौरान सामने आए कोरोना के 8, 500 नए मामले

तेजी से सुधर रहे दिल्ली में हालात, 24 घंटे के दौरान सामने आए कोरोना के 8, 500 नए मामले

देश की राजधानी दिल्ली से राहत की खबर आ रही है। दिल्ली में पिछले 24 घंटे के दौरान 8500 नए कोरोना के मरीज सामने आए हैं वहीं संक्रमण दर 12 के आसपास पहुंच गई है। यह जानकारी खुद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दी।

Jp YadavFri, 14 May 2021 01:11 PM (IST)

नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के मद्देेनजर देश की राजधानी दिल्ली से राहत की खबर आ रही है। दिल्ली में पिछले 24 घंटे के दौरान 8500 नए कोरोना के मरीज सामने आए हैं, वहीं संक्रमण दर 12 के आसपास पहुंच गई है। यह जानकारी खुद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दी। उन्होंने कहा कि सख्त लॉकडाउन के चलते कोरोना के मामले कम हुए हैं, लेकिन हमें इसे शून्य पर ले जाना है। उन्होंने यह भी जानकारी दी है कि अगले 1-2 दिनों के दौरान दिल्ली को 1200 बे़ड और मुहैया हो जाएंगे।

शुक्रवार को डिजिटल पत्रकार वार्ता में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के हालात में लगातार सुधार हो रहा है। 22 अप्रैल को कोरोना संक्रमितों की जो दर 36 फीसद तक पहुंच गई थी, अब गिरकर 12 फीसद पर आ गई है। 10 दिनों के भीतर अस्पतालों में करीब तीन हजार बेड खाली हो गए हैं। हालांकि आइसीयू बेड की अभी भी कमी है। गंभीर मरीजों की संख्या भी कम नहीं हुई है। हमने 1200 नए आइसीयू बेड तैयार कर लिए हैं। एक दो दिन में शुरू हो जाएंगे। हालात में सुधार के लिए हमने काफी सख्त लॉकडाउन लगाया, जिसका दिल्ली वालों ने भी गंभीरता से पालन किया। उनके अनुशासित आचरण का ही परिणाम है कि स्थिति बेहतर हो रही है।

अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के मामले में कमी आने पर कहा कि अभी जंग जारी है। अभी भी साढ़े आठ हजार केस आए हैं, इनको जीरो तक ले जाना है। इसलिए ढिलाई नहीं बरतनी। न ढिलाई बरतनी है और न कोशिशों में कोई कमी छोड़नी है। दिल्ली सरकार अभी भी भविष्य के लिए अपनी तैयारी को पुख्ता करने में लगी हुई हे। नए बेड तैयार कर रहे हैं और ऑक्सीजन सिलेंडर भी खरीद रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने यह भी कहा कि मुझे दुख है कि तमाम कोशिशों के बावजूद हम बहुत से लोगों को नहीं बचा सके। कई परिवारों में तो एक से अधिक मौत भी हुई हैं। बहुत से बच्चे अनाथ हो गए हैं और बहुत से बुजुर्ग अकेले रह गए हैं। इन सभी को परेशान होने की जरूरत नहीं है। मैं हूं न। न ऐसे बच्चों की पढ़ाई और परवरिश रूकेगी और न ही ऐसे बुजुर्गों को भरण पोषण की दिक्कत आएगी। सरकार उनकी हर आर्थिक मदद करेगी।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मेरी दिल्ली वालों से अपील है कि ऐसे बच्चों औैर बुजुर्गोंं को इस समय जिस प्यार और देखभाल की जरूरत है, वह दें। एक अच्छे पड़ोसी का फर्ज निभाते हुए उनका ख्याल रखें

इससे पहले बृहस्पतिवार को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर घटने और अस्पतालों में मरीज कम होने पर दिल्ली के आक्सीजन कोटे को कम करने की मांग की है। सिसोदिया ने डिजिटल पत्रकार वार्ता कर बताया कि दिल्ली में अप्रैल के चौथे और मई के पहले सप्ताह में कोरोना संक्रमण की दर तेजी से बढ़ी थी। प्रतिदिन 80 हजार से एक लाख तक टेस्ट किए जाते थे और रोज 27-28 हजार नए कोरोना मामले सामने आते थे संक्रमण की दर 32 फीसद तक पहुंच गई थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.