दिल्ली में कितनों की ही हालत पतली, 164 में से 148 उम्मीदवार नहीं बचा सके जमानत

नई दिल्ली, जेएनएन। मोदी लहर के सामने विपक्षी उम्मीदवार टिक नहीं पाए। दिल्ली में चुनाव लड़ रहे 164 में से 148 उम्मीदवार अपनी जमानत तक नहीं बचा पाए। उत्तर-पूर्वी दिल्ली सीट से आम आदमी पार्टी (आप) के प्रत्याशी दिलीप पांडेय सहित आप के तीन उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। वहीं मुक्केबाज विजेंदर सिंह भी चुनावी दंगल में लोकतंत्र के पंच से ढेर हो गए। जमानत बचाने के लिए कुल मत का 16.6 फीसद मत हासिल करना जरूरी होता है, लेकिन 148 उम्मीदवार इस आंकड़े को पार नहीं कर पाए।

24 में से 22 उम्‍मीदवार ढेर

खास बात यह है कि 100 उम्मीदवारों को एक हजार मत भी नहीं मिल पाया। उत्तर- पूर्वी दिल्ली सीट पर 24 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे, जिसमें से 22 की जमानत जब्त हो गई। आप के उम्मीदवार दिलीप पांडेय भी अपनी जमानत नहीं बचा पाए। उन्हें महज 13.06 फीसद (1,90,856) मतों से संतोष करना पड़ा। वहीं बसपा उम्मीदवार को महज 37,831 मत मिले। पूर्वी दिल्ली सीट पर 26 उम्मीदवारों में से 24 की जमानत जब्त हो गई। इसमें बीएसपी के उम्मीदवार भी शामिल हैं।

यहां से 11 में से 8 उम्‍मीदवारों की जमानत जब्‍त

उत्तर- पश्चिमी दिल्ली सीट पर 11 में से आठ उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। इस सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी राजेश लिलोठिया जैसे तैसे अपनी जमानत बचाने में कामयाब हुए। उन्हें 16.89 फीसद (2,36,803) मत मिले। वहीं नई दिल्ली सीट से चुनाव लड़े 27 में से 25 प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई। जिनमें आप उम्मीदवार बृजेश गोयल भी शामिल हैं। उन्हें महज 16.33 फीसद (1,50,342) मत मिले।

चांदनी चौक से 26 में से 24 नहीं बचा सके अपनी जमानत

चांदनी चौक सीट से 26 में से 24 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई। इस सीट पर भी आप उम्मीदवार पंकज कुमार गुप्ता की जमानत जब्त हो गई। वह सिर्फ 14.77 फीसद (1,42,990) मत पा सके। इसके अलावा दक्षिणी दिल्ली सीट पर 27 में से 25 सीटों की जमानत जब्त हो गई। जिसमें कांग्रेस प्रत्याशी विजेंदर सिंह भी शामिल हैं, उन्हें सिर्फ 13.56 फीसद मत (1,64,594) मत हासिल हुआ। पश्चिमी दिल्ली सीट पर 23 में से 20 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.