पूर्व एयर फोर्स प्रमुख सहित अन्य को मिली जमानत

जागरण संवाददाता, नई दिल्ली : 3600 करोड़ के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआइपी हेलीकॉप्टर सौदा घोटाला मामले में आरोपित वायु सेना के पूर्व प्रमुख एसपी त्यागी व उनके दो भाइयों को पटियाला हाउस कोर्ट ने जमानत दे दी। अदालत द्वारा जारी किए गए समन पर बुधवार को सीबीआइ अदालत के विशेष न्यायाधीश ओपी सैनी के समक्ष पेश होने के बाद सभी को एक-एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दे दी गई।

ईडी ने 24 जुलाई को एसपी त्यागी के अलावा वकील गौतम खेतान, इटली निवासी मिडिल मैन कार्लो गेरोसा, गयूडो हैशकी और अगस्ता वेस्टलैंड की पैरेंट कंपनी फिनमेकेनिका को भी आरोपित बनाया था। ईडी ने इन सभी पर आरोप लगाया है कि करीब 20 मिलियन यूरो की हेराफेरी की गई। पैसों के लेनेदेन में कई विदेशी कंपनियों का इस्तेमाल किया गया। बता दें कि वीवीआइपी हेलीकॉप्टर डील घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पहले भी एक आरोपपत्र दाखिल किया था, जिसमें दुबई की एक कंपनी को आरोपित बनाया गया था।

इस घोटाले में अभी तक तीन आरोप पत्र कोर्ट में दाखिल हो चुके हैं। डील में गलत तरीके से पैसों का लेनदेन करने की बात कही गई है। इस मामले में पहले भी पूर्व वायु सेना प्रमुख एसपी त्यागी, पूर्व एयर मार्शल जेएस गुजराल समेत सात अन्य के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया जा चुका है। इसमें 3,600 करोड़ रुपये में हेलीकॉप्टरों की खरीद सुनिश्चित करने के लिए 423 करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का आरोप है। जांच एजेंसी द्वारा आरोपपत्र में भ्रष्टाचार निरोधक कानून व आपराधिक षड्यंत्र के तहत चार्ज लगाए गए थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.