आंद्रे रसेल के तूफान में उड़ी दिल्ली की टीम, इस टीम ने जीता अबू धाबी T10 लीग का खिताब

Abu Dhabi T10 League 2021 के फाइनल मैच में डेक्कन ग्लैडिएटर्स ने दिल्ली बुल्स को बुरी तरह रौंद दिया और खिताब अपने नाम कर लिया। आंद्रे रसेल का तूफान फाइनल मैच में देखने को मिला जिसमें दिल्ली की टीम उड़ गई।

Vikash GaurPublish:Sun, 05 Dec 2021 10:00 AM (IST) Updated:Sun, 05 Dec 2021 10:00 AM (IST)
आंद्रे रसेल के तूफान में उड़ी दिल्ली की टीम, इस टीम ने जीता अबू धाबी T10 लीग का खिताब
आंद्रे रसेल के तूफान में उड़ी दिल्ली की टीम, इस टीम ने जीता अबू धाबी T10 लीग का खिताब

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। अबू धाबी के शेख जायद क्रिकेट स्टेडियम में Abu Dhabi T10 League 2021 का फाइनल मुकाबला डेक्कन ग्लैडिएटर्स और दिल्ली बुल्स के बीच खेला गया। इस मैच में डेक्कन ग्लैडिएटर्स ने जीत हासिल करते हुए अपना पहला खिताब जीता। वहीं, दिल्ली बुल्स लगातार दूसरी बार खिताबी मैच में हारी है। इस बार रनों का पीछा करते हुए दिल्ली की टीम को हार मिली है, जबकि पिछले सीजन में दिल्ली की टीम रनों का बचाव करते हुए हार गई थी।

इस मैच की बात करें तो डेक्कन ग्लैडिएटर्स ने शानदार खेल दिखाया। ड्वेन ब्रावो की कप्तानी वाली दिल्ली बुल्स ने टास जीतकर गेंदबाजी चुनी थी और ऐसे में डेक्कन ग्लैडिएटर्स को पहले बल्लेबाजी करनी पड़ी। डेक्कन ग्लैडिएटर्स के लिए टाम कोहलर कैडमोर और आंद्रे रसेल ने ओपनिंग की जिम्मेदारी संभाली। दोनों ने 10 ओवर में 159 रन कूट डाले, जिसमें आंद्रे रसेल का तूफान देखने को मिला। आंद्रे रसेल ने महज 32 गेंदों में 9 चौके और 7 छक्कों के दम पर 90 रन बनाए।

रसेल के अलावा कैडमोर ने दिखाया जलवा

उधर, कैडमोर ने 28 गेंदों में 59 रन की पारी खेली। 10-10 ओवर के खेल में अगर आपको फाइनल मैच में एक भी विकेट न मिले तो टीम वैसे ही दबाव में आ जाएगाी। ऐसा ही हुआ भी। दिल्ली की टीम 10 ओवर खेलने के बाद 7 विकेट खोकर 103 रन ही बना सकी और मुकाबला 56 रन से हार गई। दिल्ली बुल्स को अच्छी शुरुआत जरूर मिली, लेकिन टीम के मध्य क्रम के बल्लेबाज कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए। ऐसे में पाकिस्तानी दिग्गज बहाव रियाज की टीम को खिताबी जीत मिली।

जिस तरह दिल्ली बुल्स दूसरी बार खिताब के लिए लड़ रही थी। वैसे ही डेक्कन ग्लैडिएटर्स भी दूसरी बार फाइनल में थी, लेकिन बाजी डेक्कन ग्लैडिएटर्स ने मारी। वहाब रियाज की कप्तानी वाली टीम अपने आखिरी मैच में सबसे शानदार प्रदर्शन किया। रसेल का बल्ला भी कुछ खास इस टूर्नामेंट में चला नहीं था, लेकिन खिताबी मैच में उन्होंने आतिशी बल्लेबाजी से सभी का दिल जीता और टीम के लिए उन्होंने खिताब जीता।