केएल राहुल ने बताया पंजाब किंग्स की हार का कारण, बोले- हम पिछली गलतियों से नहीं सीख रहे

IPL 2021 के दूसरे फेज की शुरुआत पंजाब किंग्स के लिए अच्छी साबित नहीं हुई। यूएई में खेले गए पिछले सीजन की तरह यहां फिर से पंजाब की टीम ने वही गलती दोहराई जिसका खामियाजा टीम को भुगतना पड़ा और राजस्थान के हाथों 2 रन से हार झेलनी पड़ी।

Vikash GaurWed, 22 Sep 2021 10:05 AM (IST)
KL Rahul ने कहा है कि हम गलतियों से सीख नहीं रहे हैं (फोटो PBKS Twitter)

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के 2020 के सीजन में जो गलतियां पंजाब किंग्स (तब किंग्स इलेवन पंजाब) ने की थीं, वही गलतियां एक बार फिर से टीम दोहरा रही है। इतना ही नहीं, यूएई में खेले गए पिछले आइपीएल में भी टीम जीते हुए मैच हार रही थी और फिर से जब यूएई के मैदानों का रुख पंजाब की टीम ने किया है तो यहां भी टीम के साथ ऐसा हुआ है। आइपीएल 2021 के यूएई लेग के अपने पहले मुकाबले में पंजाब किंग्स को दो रन से हार मिली। यहां तक कि टीम इस मैच को आसानी से जीत सकती थी, लेकिन आखिरी चार गेंदों पर टीम 3 रन भी नहीं बना सकी। इसको लेकर टीम के कप्तान केएल राहुल ने कहा है कि हमें पिछली गलतियों से सीखना होगा।

केएल राहुल ने मैच के बाद कहा, "इस हार को निगलना कठिन है। हम ऐसी टीम रहे हैं, जिसने पहले भी इस तरह के खेलों का अनुभव किया है। हमें यह देखने की जरूरत है कि हम दबाव को बेहतर तरीके से कैसे संभाल सकते हैं। 18वें ओवर में खत्म करने की कोशिश में कभी-कभी आप बहुत ज्यादा मेहनत करते हैं और अपना रास्ता खो देते हैं और विरोधियों को मैच में वापसी करा देते हैं। हमने पिछली गलतियों से नहीं सीखा है। अब हम मजबूत वापसी करने और अगले पांच मैच जीतने की कोशिश करेंगे। हमने गेंद से चीजों को अच्छी तरह से वापस खींचा, विकेट लेते रहे, जो इस प्रारूप में बहुत महत्वपूर्ण है। मेरे लिए, मयंक अग्रवाल और यहां तक कि एडेन मार्क्रम के लिए अपने पहले आइपीएल मैच में रन बनाना महत्वपूर्ण था।"

दरअसल, राजस्थान रायल्स के खिलाफ पंजाब किंग्स को जीतने के लिए 186 रन का लक्ष्य मिला था। पंजाब की टीम ने 182 रन 19 ओवर में बना लिए थे, लेकिन आखिरी ओवर में टीम एक ही रन बना पाई। यहां तक कि आखिरी चार गेंदों पर पंजाब को जीतने के लिए 3 रन बनाने थे। पंजाब ने दो विकेट खो दिए, लेकिन तीन रन नहीं बने। यही कारण रहा कि टीम 2 रन से मुकाबला हार गई। इस हार से पंजाब के प्लेआफ में पहुंचने की उम्मीदों को भी झटका लगा है, क्योंकि यहां से अब अगर टीम को प्लेआफ की रेस में बने रहना है तो फिर बाकी बचे अपने सभी पांच मुकाबले जीतने होंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.