विराट कोहली की वापसी से मुंबई टेस्ट में रहाणे या पुजारा नहीं, बल्कि इस बल्लेबाज की होगी प्लेइंग XI से छु्ट्टी!

भारतीय टीम मैनेजमेंट सीनियर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे के खराब प्रदर्शन के बाद भी उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर करने के मूड में नहीं दिख रही है। ऐसे में विराट कोहली के लिए इस बल्लेबाज को टीम से बाहर किया जा सकता है।

Sanjay SavernPublish:Thu, 02 Dec 2021 06:47 AM (IST) Updated:Thu, 02 Dec 2021 07:16 PM (IST)
विराट कोहली की वापसी से मुंबई टेस्ट में रहाणे या पुजारा नहीं, बल्कि इस बल्लेबाज की होगी प्लेइंग XI से छु्ट्टी!
विराट कोहली की वापसी से मुंबई टेस्ट में रहाणे या पुजारा नहीं, बल्कि इस बल्लेबाज की होगी प्लेइंग XI से छु्ट्टी!

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में न्यूजीलैंड के खिलाफ कानपुर टेस्ट मैच ड्रा हो गया था, लेकिन अब कीवी टीम के खिलाफ मुंबई में होने वाले दूसरे टेस्ट मैच के लिए टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली की वापसी हो गई है। कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया की कोशिश होगी वो न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच जीतें और वर्ल्ड टेस्ट चैंपयनशिप की अंक तालिका में अपनी स्थिति मजूबत करे। न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया किस कांबिनेशन के साथ मैदान पर उतरने वाली है इस पर काफी चर्चा हो रही है। 

दूसरे मैच में जीत दर्ज करने के लिए टीम इंडिया को मुंबई की परिस्थिति की हिसाब से मैदान पर उतरना होगा साथ ही साथ विराट कोहली के वापस आने के बाद किसी एक बल्लेबाज की छुट्टी हो सकती है। हालांकि चर्चा ऐसी हो रही है कि अजिंक्य रहाणे को शायद बाहर बैठाया जा सकता है, लेकिन जिस तरह से हेड कोच राहुल द्रविड़ व बालिंग कोच पारस महाम्ब्रे ने उन्हें बैक किया है उससे ऐसा लगता नहीं है। हालांकि विराट की जगह जिस बल्लेबाज को प्लेइंग इलेवन से बाहर किया जा सकता है वो ओपनर बल्लेबाज मयंक अग्रवाल हो सकते हैं। 

दरअसल पारस महाम्ब्रे ने बताया था कि रिद्धिमान साहा दूसरे टेस्ट में खेलेंगे या नहीं इस पर फैसला उसी वक्त किया जाएगा, लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि साहा गरदन की जकड़न की वजह से दूसरे टेस्ट से बाहर हो सकते हैं। ऐसे में श्रीकर भरत को डेब्यू करने का मौका मिल सकता है जो शानदार विकेटकीपर के साथ-साथ बेहतरीन ओपनर बल्लेबाज हैं। अगर श्रीकर भरत मुंबई टेस्ट में डेब्यू करते हैं तो वो शुभमन गिल के साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं। कानपुर टेस्ट में भी जब साहा तकलीफ में थे तब भरत ने ही विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी पहली पारी में संभाली थी। वहीं यहां पर अगर मयंक अग्रवाल को प्लेइंग इलेवन से बाहर किया जाता है तो पुजारा, रहाणे में से किसी को बाहर करने की शायद ही जरूरत पड़े। मयंक ने कानपुर टेस्ट की पहली पारी में 13 रन जबकि दूसरी पारी में 17 रन की पारी खेली थी।