top menutop menutop menu

विराट कोहली खास वजह से झगड़े में पड़ना पसंद करते हैं, जोश हेजलवुड को सता रहा डर

नई दिल्ली, प्रेट्र। भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस साल के अंत में टेस्ट सीरीज खेलनी है, लेकिन उससे पहले ही कंगारू टीम के कई खिलाड़ियों ने एक ही बात कही है कि वो उस टेस्ट सीरीज में विराट कोहली को स्लेज करने से बचेंगे। यही नहीं उन सबका यही मानना है कि विराट को छेड़ने पर वो और ज्यादा घातक हो जाते हैं और उनका प्रदर्शन बेहतरीन हो जाता है। अब इस टीम के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने भी कहा है कि उनकी टीम विराट कोहली की बल्लेबाजी के दौरान उनसे भिड़ने से बचने की बात को तरजीह देगी यानि उन्हें स्लेजिंग नहीं करेगी। 

हेजलवुड ने विराट को गेंदबाजी करने के बारे में बात करते हुए कहा कि हम किसी भी ऐसी स्थिति से बचेंगे जिससे की टकराव हो। यानी साफ तौर पर वो विराट को स्लेज नहीं करने की रणनीति पर चलेंगे क्योंकि अगर उन्हें छेड़ा गया तो वो और ज्यादा खतरनाक हो जाएंगे और ये मेजबान टीम के हित में नहीं होगा। उन्होंने कहा कि पिछले दौरे पर से साबित भी हो गया था। 

हेजलवुड ने कहा कि विराट कोहली किसी भी तरह के झगड़े में पड़ना पसंद करते हैं क्योंकि इससे शायद वो अपना बेस्ट प्रदर्शन करते हैं खासतौर पर तब जब वो बल्लेबाजी कर रहे हों। इस वजह से हमारी टीम के गेंदबाजों के लिए उनकी बल्लेबाजी के दौरान किसी भी तरह के झगड़े में पड़ना सही नहीं होगा। उन्होंने कहा कि अगर विराट फील्डिंग कर रहे हैं तो बात अलग होती है, लेकिन अगर वो बल्लेबाजी कर रहे होते हैं तो उसे ऐसे ही छोड़ देना चाहिए। ऐसे में हम ये उम्मीद कर सकते हैं कि वो थोड़े निराश मूड में हों और हम उसका फायदा उठा सकें। 

वहीं हेजलवुड ने कहा कि चेतेश्वर पुजारा भी कमाल के खिलाड़ी हैं और वो गेंदबाजों को थकाने में विश्वास रखते हैं। उन्होंने कहा कि पुजारा गेंदबाजों के थका देते हैं और अपनी विकेट की कीमत उन्हें अच्छी तरह से पता होता है। पिछले दौरे पर हमने ये देखा भी था। भारत के कंगारू टीम के खिलाफ इस साल के अंत में चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है जिसकी शुरुआत 3 दिसंबर से ब्रिसबेन में हगी। वहीं एडीलेड में दोनों टीमों के बीच डे-नाइट टेस्ट भी 11 दिसंबर से खेला जाएगा। इसके अलावा तीसरा टेस्ट मैच 26 दिसंबर से मेलबर्न व चौथा टेस्ट मैच 3 जनवरी से सिडनी में खेला जाएगा। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.