T20 world cup 2021 Aus vs SA: आस्ट्रेलिया का सामना दक्षिण अफ्रीका से, कौन किस पर पड़ेगा भारी

T20 world cup 2021 Aus vs SA 13th match आइसीसी टी-20 विश्व कप में शनिवार को जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपना अभियान शुरू करेगी तो उसे अपने शीर्षक्रम के लय में लौटकर बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद होगी। टी-20 विश्व कप चैंपियन बनने में अब तक नाकाम रही हैं।

Sanjay SavernFri, 22 Oct 2021 08:59 PM (IST)
आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के खिलाड़ी (एपी फोटो)

अबूधाबी, जेएनएन। आस्ट्रेलिया की टीम आइसीसी टी-20 विश्व कप में शनिवार को जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपना अभियान शुरू करेगी तो उसे अपने शीर्षक्रम के लय में लौटकर बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद होगी। टी-20 विश्व कप चैंपियन बनने में अब तक नाकाम रही दोनों टीमें अपने सपने को पूरा करने के लिए सुपर-12 दौर के ग्रुप-एक के इस पहले मुकाबले को अपने नाम करके शानदार शुरुआत करना चाहेंगी।

आस्ट्रेलिया के लिए हालांकि चिंताएं ज्यादा हैं जिसे यहां पहुंचने से पहले बांग्लादेश, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड, भारत और इंग्लैंड ने द्विपक्षीय सीरीज में हराया है। इस दौरान आस्ट्रेलिया सिर्फ पांच जीत हासिल कर सका और 13 में उसे हार मिली। इसमें ज्यादातर मैचों में हालांकि टीम में कई मुख्य खिलाड़ी शामिल नहीं थे।

टीम के लिए सबसे बड़ी चिंता विस्फोटक बल्लेबाज डेविड वार्नर की खराब लय है। आइपीएल के दूसरे चरण के शुरुआती दो मैचों में शून्य और दो रन की पारी के बाद इस सलामी बल्लेबाज को टीम से बाहर कर दिया गया था। अभ्यास मैचों में भी उन्होंने दो मैचों में शून्य और एक रन बनाए। घुटने की सर्जरी के बाद वापसी कर रहे कप्तान आरोन फिंच के पास भी मैच अभ्यास की कमी है। उप कप्तान पैट कमिंस ने अप्रैल में आइपीएल के पहले चरण के बाद से क्रिकेट मैच नहीं खेला है। टीम के लिए स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ संघर्ष भी चिंता का सबब है।

टीम की मजबूती मध्यक्रम का शानदार लय में होना है। स्टीव स्मिथ के साथ आलराउंडर मार्कस स्टोइनिस, ग्लेन मैक्सवेल और मिशेल मार्श अपने दम पर किसी भी मैच का रुख मोड़ सकते है। मैक्सवेल अपने करियर की सबसे अच्छे लय में है। आस्ट्रेलिया के पास शानदार गेंदबाजी है, जिससे टीम चयन के लिए कप्तान और कोच को काफी सोच-विचार करना होगा। एश्टन एगर और एडम जांपा स्पिन के अनुकूल यूएई की पिचों पर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। कमिंस, मिशेल स्टार्क, केन रिचर्डसन और जोश हेजलवुड जैसे तेज गेंदबाजों के पास किसी भी बल्लेबाजी क्रम को झकझोरने का माद्दा है।

दूसरी ओर, दक्षिण अफ्रीका की टीम गत चैंपियन वेस्टइंडीज, आयरलैंड और श्रीलंका को द्विपक्षीय सीरीज में हराकर यहां पहुंची है। टीम ने अपने दोनों अभ्यास मैचों को भी जीता। दक्षिण अफ्रीका की टीम में हालांकि पहले की टीमों की तरह बड़े खिलाड़ी नहीं हैं, इसलिए टूर्नामेंट जीतने की उम्मीद कम है। ऐसे में खिलाड़ी दबाव के बिना खेलेंगे। दक्षिण अफ्रीका के पास शीर्षक्रम में कई सलामी बल्लेबाज हैं और जब वे प्रदर्शन नहीं करते हैं तो उनके लिए मुश्किल हो जाती है। मध्यक्रम और आखिरी ओवरों में बड़े शाट खेलने वाले खिलाडि़यों की कमी उनके लिए चिंता का सबब है। पावर हिटर डेविड मिलर की फार्म बड़ी चिंता का विषय है। दक्षिण अफ्रीका के पास शानदार गेंदबाजी आक्रमण है, जिसमें कैगिसो रबादा, लुंगी नगिदी और एनरिक नोत्र्जे तेज गेंदबाजी की अगुआई करेंगे तो वहीं विश्व रैंकिंग के नंबर एक गेंदबाज तबरेज शम्सी और केशव महाराज स्पिन विभाग में मोर्चा संभालेंगे।

टीमें :

आस्ट्रेलिया : आरोन फिंच (कप्तान), एश्टन एगर, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड, जोश इंग्लिस, मिशेल मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, केन रिचर्डसन, स्टीव स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, मिशेल स्वेपसन, मैथ्यू वेड, डेविड वार्नर, एडम जांपा।

दक्षिण अफ्रीका : तेंबा बावुमा (कप्तान), केशव महाराज, क्विंटन डिकाक, ब्योर्न फोर्टुइन, रीजा हेंड्रिक्स, हेनरिक क्लासेन, एडेन मार्करैम, डेविड मिलर, डब्ल्यू मुलडर, लुंगी नगिदी, एनरिक नोत्र्जे, ड्वेन प्रिटोरियस, कैगिसो रबादा, तबरेज शम्सी, रासी वेन डेर डुसैन।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.