Pak-NZ cricket series abandoned: न्यूजीलैंड ने सुरक्षा खतरा बताकर पाकिस्तान का क्रिकेट दौरा रद किया, 18 साल बाद आई थी मेहमान टीम

Pakistan Tour of New Zealand न्यूजीलैंड की टीम 18 साल के बाद पाकिस्तान के दौरे पर गई थी और आज यानी 17 सितंबर को पहला वनडे खेला जाना था लेकिन इस पूरे दौरे को ही फिलहाल रद कर दिया गया है।

Vikash GaurFri, 17 Sep 2021 03:11 PM (IST)
Big Breaking: 18 साल बाद पाकिस्तान गई न्यूजीलैंड की टीम

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। Pakistan Tour of New Zealand: न्यूजीलैंड की टीम 18 साल के बाद पाकिस्तान के दौरे पर गई थी, जहां टीम को 3 वनडे और 5 टी20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज खेलनी थी और इसी वनडे सीरीज का पहला मुकाबला आज यानी 17 सितंबर को रावलपिंडी के पिंडी क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाना था, लेकिन टास से कुछ ही समय पहले इस दौरे को फिलहाल के लिए रद कर दिया गया है। न्यूजीलैंड के पाकिस्तान दौरे के रद होने के पीछे सुरक्षा कारणों का हवाला दिया गया है। न्यूजीलैंड की टीम आखिरी बार पाकिस्तान के दौरे पर साल 2003 में गई थी और अब 18 साल के बाद टीम को पाकिस्तान में खेलना था, लेकिन इस दौरे को रद करना पड़ा है।

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने अपने आधिकारिक बयान में कहा है, "पांच मैचों की टी20 सीरीज के लिए लाहौर जाने से पहले, कीवी टीम को आज शाम (17 सितंबर) रावलपिंडी में तीन एकदिवसीय मैचों की सीरीज का पहला मैच पाकिस्तान से खेलना था। हालांकि, पाकिस्तान के लिए न्यूजीलैंड सरकार के खतरे के स्तर में वृद्धि और जमीन पर एनजेडसी सुरक्षा सलाहकारों की सलाह के बाद, यह निर्णय लिया गया है कि न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड दौरा जारी नहीं रखेगा। अब टीम के प्रस्थान की व्यवस्था की जा रही है।" 

NZC के मुख्य कार्यकारी डेविड व्हाइट ने कहा कि उन्हें जो सलाह मिल रही थी, उसे देखते हुए दौरे को जारी रखना संभव नहीं था। उन्होंने कहा, "मैं समझता हूं कि यह पीसीबी के लिए एक झटका होगा, जो शानदार मेजबान रहा है, लेकिन खिलाड़ियों की सुरक्षा सर्वोपरि है और हमारा मानना है कि इस समय हमारे लिए यही एकमात्र जिम्मेदारी भरा विकल्प है।"

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड (NZC) के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने भी बयान जारी किया है और कहा है, "आज कुछ ही समय पहले न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने हमें सूचित किया कि उन्हें कुछ सुरक्षा अलर्ट के लिए सतर्क कर दिया गया था और उन्होंने सीरीज को स्थगित करने का फैसला किया है। सभी आने वाली टीमों के लिए पीसीबी और पाकिस्तान सरकार ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। हमने न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड को उसी का आश्वासन दिया है। प्रधानमंत्री ने न्यूजीलैंड के प्रधान मंत्री से व्यक्तिगत रूप से बात की और उन्हें सूचित किया कि हमारे पास दुनिया की सबसे अच्छी खुफिया प्रणालियों में से एक है और मेहमान टीम न्यूजीलैंड के लिए यहां कोई सुरक्षा खतरा नहीं है। न्यूजीलैंड टीम के साथ आए सुरक्षा अधिकारी पाकिस्तान सरकार द्वारा यहां उपलब्ध कराई गई सुरक्षा व्यवस्था से संतुष्ट हैं। PCB निर्धारित मैचों को जारी रखने के लिए तैयार है। हालांकि, पाकिस्तान और दुनिया भर में क्रिकेट प्रेमी इस अंतिम समय में वापसी से निराश होंगे।"

पाकिस्तान से क्यों डरते हैं क्रिकेट बोर्ड

गौरतलब है कि पाकिस्तान में साल 2009 में लाहौर के गद्दाफी क्रिकेट स्टेडियम के पास आतंकवादियों ने श्रीलंका की टीम बस पर हमला किया था। इस घटना में श्रीलंका के 6 क्रिकेटर घायल हो गए थे, जबकि पाकिस्तान के 6 पुलिसकर्मी और दो नागरिक हमले में मारे गए थे। इस घटना का काफी बुरा असर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर पड़ा, जिसका खामियाजा पूरा देश आज भी भुगत रहा है। 

यहां तक कि करीब एक दशक तक पाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट का आयोजन नहीं हुआ था, लेकिन जिम्बाब्वे और वेस्टइंडीज के अलावा श्रीलंका जैसे देशों ने पाकिस्तान में क्रिकेट खेलनी शुरू की तो फिर अनय् देश भी इसके लिए तैयार हुए, लेकिन न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड को मिली धमकी के बाद एक बार फिर से बड़ी टीमें पाकिस्तान जाने से कतराती रहेंगी। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.