top menutop menutop menu

Eng vs WI 1st Test: पहले दिन का खेल बारिश ने किया खराब, 17.4 ओवर में इंग्लैंड का स्कोर 35/1

नई दिल्ली, जेएनएन। Eng vs WI 1st test match Live: इंग्लैंड व वेस्टइंडीज के बीच एजेस बाउल स्टेडियम में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला खेला जा रहा है। बारिश की वजह से पहले दिन महज 17.4 ओवर का ही खेल हो पाया। इंग्लैंड ने पहले दिन खेल खत्म होने तक एक विकेट के नुकसान पर 35 रन बनाए थे। पहले दिन खेल खत्म होने की घोषणा किए जाने के वक्त जो बर्न्स 20 जबकि जो डेनली 14 रन पर खेल रहे थे। 

इंग्लैंड की बल्लेबाजी, शून्य पर आउट हुए डॉमनिक सिब्ले

इंग्लैंड के लिए पारी की शुरुआत करने रोरी बर्न्स और डॉमनिक सिब्ले मैदान पर आए। दूसरे ओवर में ही वेस्टइंडीज के लिए शेनन गेब्रियाल ने कामयाबी हासिल की। ओवर की चौथी गेंद पर बिना खाता खोले सिब्ले वापस लौट गए। 

पहला सत्र बारिश ने खराब किया

116 दिन बाद वापसी कर रहे क्रिकेट पर बारिश ने खलल डाल दिया और टेस्ट का पहला सत्र बारिश के कारण पूरा धुल गया। इस सबके बीच भी खिलाडि़यों में एक नई उम्मीद दिखी और पूरी दुनिया ने एक बार फिर से क्रिकेट का स्वागत किया। बारिश की वजह से टेस्ट के पहले दिन का पहला सत्र बारिश की वजह से धुल गया।

हर कोई इंतजार कर रहा था कि कब पहली गेंद डलेगी। इस बीच अच्छी खबर तब आई जब इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने भोजनकाल के बाद हुए टॉस को जीत लिया और पहले बल्लेबाजी चुनी। भोजनकाल खत्म होने के बाद खेल शुरू हुआ। हालांकि कोरोना की वजह से दर्शकों के प्रवेश पर पाबंदी थी और 143 साल के इतिहास में पहली बार कोई टेस्ट बिना दर्शकों के खेला गया। 

इंग्लैंड के प्लेइंग इलवेन में अनुभवी तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड को जगह नहीं दी गई है। साल 2012 के बाद यह पहला मौका है जब किसी घरेलू मुकाबले में ब्रॉड को प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया गया है। 

इंग्लैंड का प्लेइंग इलेवन

रोरी बर्न्स, डॉमनिक सिब्ले, जो डेनली, जैक क्राउले, बेन स्टोक्स (कप्तान), ओली पोप, जोस बटलर (विकेटकीपर), डॉमनिक बेस, जोफ्रा आर्चर, मार्क वुड, जेम्स एंडरसन

वेस्टइंडीज का प्लेइंग इलेवन

जॉन कैंपबेल, क्रेग ब्रेथवेट, शामर्ह ब्रूक्स, शाई होप, रोस्टन चेज, जर्माइने ब्लैकवुड, शेन डाउविच (विकेटकीपर), जेसन होल्डर (कप्तान), अल्जारी जोसेफ, केमार रोच, शेनन गेब्रियाल 

कोविड 19 महामारी की वजह से मार्च के अंत से क्रिकेट पूरी तरह से बंद है ऐसे में इस सीरीज के जरिए नई उम्मीदों के साथ क्रिकेट की वापसी हो रही है। इसके अलावा नए नियमों के साथ बदले अंदाज में ये टेस्ट सीरीज खेली जा रही है। वेस्टइंडीज की टीम ने 1988 के बाद इंग्लैंड में कोई भी टेस्ट सीरीज नहीं जीती है ऐसे में वो इस बार अपने इस खराब रिकॉर्ड को तोड़ना चाहेंगे। 

इंग्लैंड की बल्लेबाजी की बात की जाए तो उसके पास ज्यादा अनुभव नहीं है लेकिन घर में खेलने के कारण कहा जा सकता है कि उसका पलड़ा भारी रहेगा। रोरी ब‌र्न्स, जो डेनली, जैक क्रॉले पर शीर्ष क्रम की जिम्मेदारी है। इंग्लैंड के पास हालंकि दो अनुभवी खिलाड़ी जोस बटलर और स्टोक्स हैं जो अपनी शानदार बल्लेबाजी से मैच का रुख बदल सकते हैं। दोनों टीमें इस मैच में ब्लैक लाइव्स मैटर के लोगो को साथ उतरेंगी। अमेरिका में अश्वेत शख्स जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में हुई मौत के बाद से इस आंदोलन ने जोर पकड़ लिया है।

वेस्टंडीज की बल्लेबाजी की बात की जाए तो यह उसकी कमजोर कड़ी है और यहां इग्लैंड को भी परेशानी हो सकती है क्योंकि नियमित कप्तान जो रूट के न होने से उसको थोड़ी चिंता तो होगी। रूट की गैरमौजूदगी में बेन स्टोक्स टीम की कप्तानी कर रहे हैं। रूट बच्चे के जन्म के कारण इस मैच में नहीं खेल पा रहे हैं। टीम के मुख्य बल्लेबाज होने के नाते उनकी कमी टीम को खलेगी।

वेस्टइंडीज की बल्लेबाजी की बात की जाए तो काफी कुछ क्रेग ब्रेथवेट और शाई होप पर निर्भर करेगा। यह दोनों टीम की बल्लेबाजी की धुरी हैं। एक बार अगर इंग्लैंड ने इन दोनों के विकेट निकाल लिए तो विंडीज के लिए संभलना मुश्किल हो सकता है। शेन डॉवरिच भी अच्छी बल्लेबाजी करने का दम रखते हैं। निचले क्रम में कप्तान होल्डर का बल्ला भी चला तो विंडीज को राहत मिलेगी।

आइसीसी ने हालांकि महामारी को देखते हुए कुछ बदलाव किए हैं जिनके मुताबिक यह सीरीज खाली स्टेडियम में बिना दर्शकों के खेली जाएगी। साथ ही आइसीसी ने गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर भी प्रतिबंध लगाया है। यह हालांकि दोनों टीमों के लिए चिंता की बात है क्योंकि अगर देखा जाए तो इंग्लैंड की स्थितियों में तेज गेंदबाज हावी रहते हैं और दोनों टीमों के पास अच्छे तेज गेंदबाज भी हैं। ऐसे में नई परिस्थितियों से वाकिफ होने में दोनों टीमों को वक्त लगेगा।

गेंदबाजी में इंग्लैंड के पास जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड के अलावा क्रिस वोक्स और जोफ्रा आर्चर हैं जो इंग्लैंड की परिस्थितियों में कहर बरपा सकते हैं। वहीं विंडीज के पास शेनोन गैब्रिएल, केमार रोच, कप्तान जेसन होल्डर और अल्जारी जोसेफ हैं जिनके पास अच्छी खासी गति है। अब देखना होगा कि लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगने से इनके प्रदर्शन पर क्या फर्क पड़ता है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.