एशेज सीरीज पर कोरोना का साया, आखिरी टेस्ट मैच पर मंडराया संकट

आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की एशेज सीरीज खेली जानी है जिसका आखिरी टेस्ट मैच अभी संकट में पड़ गया है क्योंकि वेस्टर्न आस्ट्रेलिया में क्वारंटाइन के नियमों में सख्ती की गई है। ऐसे में शायद पांचवां टेस्ट स्थगित या फिर रद किया जा सकता है।

Vikash GaurPublish:Tue, 30 Nov 2021 04:51 PM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 04:51 PM (IST)
एशेज सीरीज पर कोरोना का साया, आखिरी टेस्ट मैच पर मंडराया संकट
एशेज सीरीज पर कोरोना का साया, आखिरी टेस्ट मैच पर मंडराया संकट

पर्थ, आइएएनएस। कोरोना को लेकर सख्ती में थोड़ी सी ढील मिल ही रही थी कि कोरोना के नए वेरिएंट ने सभी के होश उड़ा रखे हैं। इसी वजह से कोरोना के प्रोटोकाल को और भी ज्यादा सख्त किया जा रहा है। इस तरह आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच खेली जाने वाली एशेज सीरीज के आखिरी टेस्ट पर भी कोरोना वायरस महामारी का संकट मंडरा रहा है। नए कोविड वेरिएंट के कारण पर्थ में पांचवां और एशेज का अंतिम टेस्ट होना मुश्किल लग रहा है।

दरअसल, वेस्टर्न आस्ट्रेलिया के प्रीमियर मार्क मैकगोवन ने मंगलवार को कहा है कि नए वेरिएंट के कारण सख्त सीमा प्रतिबंध लागू रहेंगे और खिलाड़ियों को मैच खेलने के लिए 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रहना आवश्यक होगा। यहां तक कि पांचवें टेस्ट मैच के लिए क्रिकेटरों की पत्नियों और गर्लफ्रेंड्स के आने पर भी रोक लगा दी है। यह टेस्ट 14 जनवरी से 60 हजार की क्षमता वाले आप्टस स्टेडियम में खेला जाना है।

मैकगोवन ने एक वेबसाइट को बताया, "कोरोना के नए ओमिक्रोन वेरिएंट ने राज्य की सीमाओं को फिर से खोलने की योजना को खराब कर दिया है।" मंगलवार को मैकगोवन ने खुलासा किया कि क्रिकेटरों को भी 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रहना आवश्यक है। इस तरह आखिरी टेस्ट मैच पर कोरोना का संकट है, क्योंकि चौथा टेस्ट मैच 9 जनवरी को सिडनी में समाप्त होगा। ऐसे में क्वारंटाइन के प्रोटोकाल फालो नहीं हो पाएंगे।

इतना ही नहीं, वेस्टर्न आस्ट्रेलिया की ओर से ये भी स्पष्ट कर दिया है कि स्टाफ के सदस्यों और प्रसारण टीम के लिए भी कोरोना प्रोटोकाल में कोई छूट नहीं होगी, क्योंकि उन्हें भी दो सप्ताह के लिए और बाद में पूरे मैच के दौरान अलग-थलग रहना होगा। इस तरह अभी के बयानों से माना जा सकता है कि आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच बहु-प्रतीक्षित एशेज सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच कैंसिल करना होगा या फिर किसी अन्य स्थल पर आयोजित करना होगा।