top menutop menutop menu

गावस्कर हैं टेस्ट क्रिकेट की चारों पारियों में दोहरा शतक लगाने वाले वर्ल्ड के इकलौते बल्लेबाज, अटूट है ये रिकॉर्ड

नई दिल्ली, प्रेट्र। सुनील गावस्कर के नाम पर कई रिकॉर्ड दर्ज हैं। वो टेस्ट में 10,000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं तो वहीं डेब्यू टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन (774) बनाने का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम पर है। इन सब रिकॉर्ड के अलावा एक ऐसा रिकॉर्ड उन्होंने बनाया था जो आजतक नहीं टूठा है। टेस्ट क्रिकेट की सभी चार पारियों में दोहरा शतक लगाने वाले वो वर्ल्ड के एकमात्र बल्लेबाज थे। सर डॉन ब्रेडमैन ने टेस्ट क्रिकेट में 12 दोहरे शतक लगाए थे, लेकिन ये कमाल तो वो भी नहीं कर पाए थे।

गास्कर ने अपने टेस्ट करियर में सिर्फ 4 दोहरे शतक लगाए थे, लेकिन ये सभी दोहरे शतक उन्होंने टेस्ट क्रिकेट की अलग-अलग पारियों में जड़े थे। उन्होंने अपना पहला दोहरा शतक (220 रन) अपनी डेब्यू टेस्ट सीरीज में ही 1971 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन में मैच की तीसरी पारी में बनाया था। इसके बाद इस दिग्गज सलामी बल्लेबाज ने 1978 में वेस्टइंडीज के खिलाफ ही मुंबई में मैच की पहली पारी में 205 रन बनाये और इसके एक साल बाद इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में मैच की चौथी पारी में 221 रन की मैराथन पारी खेली थी।

गावस्कर ने अपना आखिरी दोहरा शतक (नाबाद 236) 1985 में चेन्नई में वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच की दूसरी पारी में बनाया था। ब्रैडमैन उन छह बल्लेबाजों में शामिल हैं जिन्होंने मैच की तीन पारियों में दोहरे शतक लगाये थे। इस आस्ट्रेलियाई दिग्गज ने अपने सभी 12 दोहरे शतक पहली तीन पारियों में लगाये लेकिन मैच की चौथी पारी में उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 173 रन रहा।

गावस्कर के रिकार्ड की बराबरी करने के सबसे करीब श्रीलंका के कुमार संगकारा पहुंचे थे जिन्होंने अपने करियर के सभी 11 दोहरे शतक पहली तीन पारियों में लगाये। आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2007 में होबार्ट में वह चौथी पारी में दोहरा शतक जड़ने के करीब पहुंच गये थे लेकिन जब वह 192 रन पर खेल रहे थे तब अंपायर के खराब फैसले की वजह से उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा था।

टेस्ट क्रिकेट की तीन पारियों में दोहरे शतक लगाने वाले अन्य बल्लेबाजों में यूनिस खान, एलिस्टेयर कुक, ब्रैंडन मैकुलम और गॉर्डन ग्रीनिज शामिल हैं। जिन बल्लेबाजों ने अपने करियर में चार या इससे अधिक दोहरे शतक लगाये हैं उनमें से ज्यादातर खिलाड़ियों ने मैच की पहली और दूसरी पारी में ही ये कमाल किया। इनमें वॉली हैमंड, सचिन तेंदुलकर, ब्रायन लारा, राहुल द्रविड़, वीरेंद्र सहवाग, विराट कोहली, रिकी पोंटिंग, माहेला जयवर्धने और मार्वन अटापट्टू भी शामिल हैं। मोहम्मद यूसुफ ने अपने चारों दोहरे शतक मैच की दूसरी पारी में लगाए थे। 

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.