श्रेयस अय्यर ने खुद को किया साबित, डेब्यू टेस्ट में ही कठिन परिस्थिति में टीम के लिए ठोका अर्धशतक

Shreyas Iyer half century इस टेस्ट मैच में जब श्रेयस का अर्धशतक आया तब टीम की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं थी। टीम के शुरुआती बल्लेबाज मयंक अग्रवाल 13 रन चेतेश्वर पुजारा 33 रन और कप्तान अजिंक्य रहाणे 35 रन बनाकर आउट हो गए थे।

Sanjay SavernPublish:Thu, 25 Nov 2021 03:45 PM (IST) Updated:Thu, 25 Nov 2021 03:45 PM (IST)
श्रेयस अय्यर ने खुद को किया साबित, डेब्यू टेस्ट में ही कठिन परिस्थिति में टीम के लिए ठोका अर्धशतक
श्रेयस अय्यर ने खुद को किया साबित, डेब्यू टेस्ट में ही कठिन परिस्थिति में टीम के लिए ठोका अर्धशतक

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। कानपुर टेस्ट मैच की पहली पारी में भारतीय टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने टीम इंडिया के लिए अर्धशतक लगाया और खबर लिखे जाने तक वो (नाबाद 75 रन) बल्लेबाजी कर रहे थे। श्रेयस अय्यर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ कानपुर टेस्ट मैच के जरिए अपने टेस्ट डेब्यू किया और इस मैच में उन्हें चौथे स्थान पर यानी विराट कोहली की जगह पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया। टेस्ट में विराट कोहली चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं और वो इस मैच में नहीं खेल रहे हैं। इतने अहम खिलाड़ी और इतने अहम नंबर पर श्रेयस को जो जिम्मेदारी मिली वो उस पर खरे उतरते नजर आए और टीम की जरूरत के मुताबिक बल्लेबाजी करते हुए 94 गेंदों पर अपने टेस्ट करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया। 

श्रेयस अय्यर का पहला टेस्ट अर्धशतक

इस टेस्ट मैच में जब श्रेयस का अर्धशतक आया तब टीम की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं थी। टीम के शुरुआती बल्लेबाज मयंक अग्रवाल 13 रन, चेतेश्वर पुजारा 33 रन और कप्तान अजिंक्य रहाणे 35 रन बनाकर आउट हो गए थे। हालांकि ओपनर बल्लेबाज शुभमन गिल ने टीम को संभालने का काम किया और 52 रन की पारी जरूर खेली, लेकिन टीम को इसके बाद पूरी तरह से संभालने का काम अय्यर ने किया और शानदार अर्धशतक जड़ा। भारत की पहली पारी में 145 रन पर चार विकेट गिर गए थे और टीम दवाब में थी क्योंकि एक जरूरी अंतराल पर विकेट गिर रहे थे, लेकिन श्रेयस ने इसके बाद रवींद्र जडेजा के साथ मिलकर टीम को काफी अच्छे तरीके से संभालने का काम किया। 

श्रेयस का फर्स्ट क्लास करियर

श्रेयस अय्यर का ये पहला टेस्ट मैच है, लेकिन वो इससे पहले भारत के लिए वनडे व टी20 मुकाबले खेल चुके हैं। श्रेयस का फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर काफी शानदार रहा है और लंबे प्रारूप में उनके पास रन बनाने का शानदार अनुभव है। उन्होंने अपने क्रिकेट करियर में अब तक 54 फर्स्ट क्लास मैचों में 52.18 की औसत से 4592 रन बनाए हैं और इसमें 12 शतक और 23 अर्धशतक शामिल है। फर्स्ट क्लास करियर में अब तक उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 202 रन रहा है।