RCB के इस ओपनर ने ठोका लगातार तीसरा शतक, बनाए नाबाद 145 रन और खटखटाया टीम इंडिया का दरवाजा

कर्नाटक के ओपनर बल्लेबाज देवदत्त पडीक्कल ने लगातार तीसरा शतक लगाया (एपी फोटो)

Devdutt Padikkal third century in Vijay Hazare Trophy विराट कोहली की कप्तानी वाली आरसीबी के ओपनर बल्लेबाज ने विजय हजारे ट्रॉफी टूर्नामेंट में लगातार तीसरा शतक लगाया और टीम को 10 विकेट से जीत दिलाई। इसके अलावा उन्होंने टीम इंडिया में अपनी जगह के लिए भी दरवाजा खटखटाया।

Sanjay SavernSun, 28 Feb 2021 04:32 PM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। Vijay Hazare Trophy 2021: विराट कोहली की कप्तानी वाली आरसीबी की टीम के 20 साल के ओपनर बल्लेबाज देवदत्त पडीक्कल गजब की फॉर्म में नजर आ रहे हैं। इस टूर्नामेंट के लीग मैच में उन्होंने रेलवे के खिलाफ भी नाबाद शतकीय पारी खेली और टीम को 10 विकेट से जीत दिलाई। इस टूर्नामेंट में ये देवदत्त पडीक्कल का लगातार तीसरा शतक रहा। अपनी बेहतरीन फॉर्म के दम पर उन्होंने टीम इंडिया में चयन के लिए भी दरवाजा खटखटा दिया। कर्नाटक की तरफ से दूसरे ओपनर बल्लेबाज व कप्तान रवि कुमार समर्थ ने भी नाबाद शतकीय पारी खेली। 

देवदत्त पडीक्कल व रविकुमार समर्थ की शतकीय पारी, कर्नाटक को मिली 10 विकेट से जीत

कर्नाटक के खिलाफ रेलवे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 9 विकेट पर 184 रन बनाए। इसके बाद दूसरी पारी में कर्नाटक ने 40.3 ओवर में बिना कोई विकेट खोए 285 रन बनाते हुए मैच को दस विकेट से जीत लिया। कर्नाटक के दोनों ओपनर बल्लेबाजों में गजब की बल्लेबाजी की। देवदत्त पडीक्कल ने इस मैच में 9 छक्के व 9 चौकों की मदद से नाबाद 145 रन बनाए तो वहीं रविकुमार ने भी 118 गेंदों पर 17 चौकों की मदद से नाबाद 130 रन की पारी खेली। इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 285 रन की साझेदारी करते हुए अपनी टीम को जीत दिला दी। 

देवदत्त का लगातार तीसरा शतक

विजय हजारे ट्रॉफी 2021 में देवदत्त गजब की बल्लेबाजी कर रहे हैं। रेलवे के खिलाफ नाबाद 145 रन की पारी खेलने से पहले उन्होंने इसके पहले के दो मैचों यानी केरल के खिलाफ नाबाद 126 रन और ओडीसा के खिलाफ 152 रन की पारी खेली थी। वहीं इससे पहले के अन्य दो मैचों में यानी बिहार के खिलाफ उन्होंने 97 रन और यूपी के खिलाफ 52 रन की पारी खेली थी। पिछले पांच मैचों में वो तीन शतक और दो अर्धशतक लगा चुके हैं। अपनी शानदार फॉर्म के जरिए उन्होंने टीम इंडिया का दरवाजा खटखटा दिया है। देवदत्त के लिए आइपीएल 2020 भी काफी अच्छा बीता था और उन्होंने बतौर ओपनर खूब प्रभावित किया था। 

काम नहीं आया प्रथम सिंह का शतक

इससे पहले रेलवे की टीम ने ओपनर बल्लेबाज प्रथम सिंह की 129 रन की शतकीय पारी के दम पर 50 ओवर में 9 विकेट पर 284 रन बनाए थे। हालांकि प्रथम सिंह की ये मेहनत टीम के काम नहीं आई और रेलवे को हार का सामना करना पड़ा। रेलवे की तरफ से प्रथम के बाद सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज ए घोष रहे जिन्होंने 36 रन की पारी केली थी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.