भारत ने मैनचेस्टर में 85 साल से नहीं जीता है कोई भी टेस्ट मैच, इस मैदान पर बेहद खराब है रिकार्ड

Ind vs Eng 5th test मैनचेस्टर में भारत और इंग्लैंड के बीच साल 1936 में भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच खेला गया था जो ड्रा रहा था। उसके बाद से लेकर अब तक इस मैदान पर दोनों टीमों के बीच 9 टेस्ट मैच खेले गए हैं।

Sanjay SavernThu, 09 Sep 2021 03:19 PM (IST)
भारतीय टेस्ट टीम के खिलाड़ी (एपी फोटो)

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मुकाबला शुक्रवार से मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में खेला जाएगा। इस टेस्ट सीरीज में भारत 2-1 से आगे हैं और यहां ये वो सीरीज गंवाने की स्थिति में नहीं है। अगर भारत आखिरी टेस्ट हार भी जाता है तो सीरीज बराबर हो जाएगी, लेकिन जीतने या ड्रा होने की स्थिति में टीम इंडिया सीरीज जीत लेगी। अब सबसे अहम बात ये है कि, इस मैदान पर टीम इंडिया का प्रदर्शन कैसा रहा है तो अब तक के आंकड़ों के मुताबिक इसके बेहद खराब कहा जाएगा। 

भारत को 85 साल से जीत की तलाश

मैनचेस्टर में भारत और इंग्लैंड के बीच साल 1936 में भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच खेला गया था जो ड्रा रहा था। उसके बाद से लेकर अब तक इस मैदान पर दोनों टीमों के बीच 9 टेस्ट मैच खेले गए हैं। इनमें भारत को एक भी मैच में जीत नसीब नहीं हुई है जबकि इंग्लैंड ने चार मैच जीतने में सफलता हासिल की है तो वहीं 5 मुकाबले ड्रा रहे हैं। ये रिकार्ड कहीं से भी भारत के लिए अच्छा नहीं है। 

भारत और इंग्लैंड के बीच मैनचेस्टर में आखिरी टेस्ट मैच साल 2014 में खेला गया था। इस टेस्ट मैच में टीम इंडिया को बुरी तरह से पारी और 54 रन से हार मिली थी। अब इस मैदान पर 7 साल के बाद दोनों टीमें एक-दूसरे के खिलाफ भिड़ने वाली है। अब ये देखना दिलचस्प होने वाला है कि, क्या टीम इंडिया विराट कोहली की कप्तानी में इस मैदान पर पिछले 85 साल से चला आ रहा सूखा खत्म कर पाती है या नहीं। हालांकि इस बार दवाब मेहमान टीम पर नहीं बल्कि मेजबान टीम पर रहने वाली है क्योंकि अगर वो हार गए या फिर मैच ड्रा रहा तो सीरीज गंवा देंगे। वैसे भारत के पास साल 2007 के बाद इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीतने का एक बार फिर से शानदार मौका है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.