ICC world cup 2019: विश्व कप के बाद ये पाकिस्तानी खिलाड़ी ले लेगा संन्यास, कर दिया एलान !

 नई दिल्ली, जेएनएन। ICC world cup 2019 पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान व अनुभवी ऑलराउंडर शोएब मलिक ने साफ कर दिया है कि ये उनका आखिरी विश्व कप होगा। शोएब में एक इंटरव्यू के दौरान ये कहा कि ये उनका आखिरी विश्व कप होगा और मैं चाहता हूं कि पाकिस्तान इस बार विश्व कप खिताब जीते। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की टीम में युुवा और सीनियर खिलाड़ियों का शानदार मिश्रण है। इस टीम के साथ विश्व कप जीतने का हमारे पास अच्छा मौका है और मेरी कोशिश होगी कि मैं अपनी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन कर सकूं।

शोएब मलिक का कहना है कि वो इस वक्त अपना पूरा ध्यान विश्व कप पर दे रहे हैं और नहीं चाहते हैं कि उनका ध्यान कहीं और जाए। मेरे बारे में क्या कहा जा रहा है मैं इन बातों पर ध्यान नहीं देता हूं। मेरा ध्यान हमेशा अच्छे प्रदर्शन पर टिका होता है। मेरी ये सोच है कि ये मेरा पहला विश्व कप है क्योंकि अगर मैं ऐसा सोचूंगा कि ये मेरा आखिरी विश्व कप है तो शायद अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाउंगा। मैं खुद से ये कहता रहता हूं कि ये मेरे करियर की शुरुआत है जिसकी वजह से मेरे उपर कोई दबाव ना आने पाए। 

शोएब मलिक पाकिस्तान के लिए पिछले 20 वर्ष से वनडे क्रिकेट खेल रहे हैं। उन्होंने अब तक पाकिस्तान के लिए लिए अब तक 282 वनडे मैचों में 35.12 की औसत से 7481 रन बनाए हैं। वनडे में उनके नाम पर नौ शतक हैं। क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप यानी टी 20 में वो पाकिस्तान टीम के अहम खिलाड़ी हैं। उन्होंने पाकिस्तान के लिए 111 मैंचों में 30.58 की औसत से 2263 रन बनाए हैं। मलिक पाकिस्तान के लिए टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलते हैं पर उन्होंने इस टीम के लिए 35 टेस्ट में 1898 रन बनाए हैं। मलिक ने वनडे क्रिकेट में पाकिस्तान के लिए वर्ष 1999 में डेब्यू किया था। 

विश्व कप के बाद कई खिलाड़ी हैं जो संन्यास लेंगे और इनमें शोएब मलिक के अलावा वेस्टइंडीज के क्रिस गेल दक्षिण अफ्रीका के इमरान ताहिर जैसे खिलाड़ी शामिल हैं। विश्व कप में पाकिस्तान को अपना पहला मैच 31 मई को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलना है। पाकिस्तान ने हाल ही में विश्व कप के लिए अपनी 15 सदस्यीय टीम का एलान किया था और इस टीम में 37 वर्ष के अनुभवी खिलाड़ी शोएब मलिक को भी जगह मिली थी। इस टीम में मो. हफीज को भी मौका दिया गया है। हफीज के पास भी काफी अनुभव है। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.