चेतेश्वर पुजारा या फिर अजिंक्य रहाणे का टीम से कट सकता है पत्ता, इस खिलाड़ी ने ठोकी दावेदारी

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में 3 दिसंबर से भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच खेलना है और इस मुकाबले में अगर अजिंक्य रहाणे या फिर चेतेश्वर पुजारा को ड्राप कर दिया जाए तो फिर चौंकिएगा नहीं।

Vikash GaurSun, 28 Nov 2021 11:42 AM (IST)
श्रेयस अय्यर की वजह से पुजारा और रहाणे पर दबाव

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारत और न्यूजीलैंड के बीच आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के तहत दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जा रही है। पहला टेस्ट मैच कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में खेला जा रहा है, जिसमें टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे और उपकप्तान चेतेश्वर पुजारा हैं, लेकिन दोनों टीमों के बीच दूसरा मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में 3 दिसंबर से खेला जाएगा और इस मैच में इन दोनों में से किसी एक खिलाड़ी को ड्राप किया जाए तो चौंकिएगा नहीं, क्योंकि ये खिलाड़ी फार्म में नहीं हैं।

चेतेश्वर पुजारा नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए 39 पारियों में शतक नहीं जड़ पाए हैं और अजिंक्य रहाणे पिछले साल से ही संघर्ष कर रहे हैं। ऐसे में जब विराट कोहली नंबर चार पर वापसी करेंगे तो फिर चेतेश्वर पुजारा या फिर अजिंक्य रहाणे को अपना स्थान खोना पड़ सकता है, क्योंकि कानपुर टेस्ट मैच की पहली पारी में डेब्यू करते हुए शतक जड़ने वाले श्रेयस अय्यर ने अपनी दावेदारी मध्य क्रम के लिए पेश कर दी है। ऐसे में पुजारा या फिर रहाणे को मुंबई टेस्ट मैच में ड्राप किया जा सकता है।

श्रेयस अय्यर की वजह से पुजारा और रहाणे पर दबाव

श्रेयस अय्यर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दबाव वाली परिस्थिति में शतक जड़ा था, जबकि दूसरी पारी में भी उन्होंने साहस दिखाया। खबर लिखे जाने तक श्रेयस अय्यर ने 51 गेंदों में 18 रन बना लिए हैं। वहीं, चेतेश्वर पुजारा की बात करें तो उन्होंने पहली पारी में 26 रन बनाए और दूसरी पारी में वे 22 रन बनाकर आउट हुए। वहीं, कानपुर टेस्ट मैच में विराट कोहली की अनुपस्थिति में टीम इंडिया की कप्तानी कर रहे अजिंक्य रहाणे पहली पारी में 35 और दूसरी पारी में 4 रन बनाकर आउट हुए।

पुजारा और रहाणे के आंकड़े इसी मैच में खराब नहीं हैं, बल्कि ये दोनों बल्लेबाज पिछले काफी समय से बल्ले से संघर्ष कर रहे हैं। खासकर अजिंक्य रहाणे इस साल 19.57 की औसत से रन बना रहे हैं। कम से कम 20 पारियां खेलने के बाद एक कैलेंडर ईयर में किसी भी भारतीय खिलाड़ी का इतना खराब औसत नहीं रहा है। अजिंक्य रहाणे इस साल महज दो बार अर्धशतक जमाने में कामयाब हुए हैं, जो दर्शाता है कि उनका बल्ला इस साल बिल्कुल नहीं चला है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.