जिस वजह से आर अश्विन फंसे थे विवादों में, इस गेंदबाज ने डेब्यू मैच में चार बार किया वही काम

कैमरून की 16 साल की गेंदबाज मेवा डाउमा ने आइसीसी महिला टी-20 विश्व कप क्वालीफायर मैच में युगांडा की टीम की चार बल्लेबाजों को मांकडिंग के जरिये रन आउट किया। हालांकि डाउमा का यह प्रदर्शन उनकी टीम कैमरून को युगांडा के हाथों 155 रन की हार से नहीं बचा सका।

Viplove KumarMon, 13 Sep 2021 10:20 PM (IST)
कैमरून के गेंदबाज मांकड़िंग करते हुए (फोटो ट्विटर पेज वीडियो )

जागरण न्यूज नेटवर्क, नई दिल्ली। पदार्पण मैच खेल रहीं कैमरून की 16 साल की गेंदबाज मेवा डाउमा ने आइसीसी महिला टी-20 विश्व कप क्वालीफायर मैच में युगांडा की टीम की चार बल्लेबाजों को मांकडिंग के जरिये रन आउट किया। हालांकि, डाउमा का यह प्रदर्शन उनकी टीम कैमरून को युगांडा के हाथों 155 रन की हार से नहीं बचा सका। कैमरून की महिला टीम का यह पहला टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच था।

इस मैच में युगांडा की बल्लेबाज कैमरून की गेंदबाजों के गेंद फेंकने से पहले ही बार-बार क्रीज छोड़ रही थीं। ऐसे में डाउमा ने केविन अविनो (34) को 16वें ओवर की तीसरी गेंद पर मांकडिंग के जरिये रन आउट किया, जबकि इसी ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने रीता मुसामली (59) को भी ठीक वैसे ही रन आउट किया। इसके बाद डाउमा ने अंतिम ओवर में इसी तरह इमेक्युलेट नकिसुवी (21) और जेनेट म्बाबजी (5) को भी चलता किया। इसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

युगांडा ने निर्धारित 20 ओवरों में छह विकेट पर 190 रन बनाए थे, जिसमें 35 अतिरिक्त रन शामिल थे। जवाब में कैमरून की टीम 14.3 ओवरों में महज 35 रन ही बना सकी। उसकी सात बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल सकीं, जबकि सिर्फ एक बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा पार कर सकी। सिसाको ने सबसे अधिक नाबाद 17 रन बनाए। युगांडा की ओर से अवको ने चार ओवर में चार रन देकर सबसे अधिक तीन विकेट झटके।

आर अश्विन के मांकडिंग पर हुआ था विवाद

इंडियन प्रीमियर लीग के 2019 में खेले गए सीजन में भारतीय स्पिनर ने आर अश्विन ने पंजाब किंग्स इलेवन (अब पंजाब किंग्स) की तरफ से खेलते हुए राजस्थान रायल्स के बल्लेबाज जोस बटलर को मांकडिंग आउट किया था। इसके बाद इस तरह से आउट करने पर काफी विवाद हुआ था। कई लोगों ने अश्विन की खेल भावना पर सवाल उठाया था लेकिन उन्होंने इसे सही बताया और  आगे भी करने की बात क

यह होता है मांकडिंग :

गेंदबाजी छोर का बल्लेबाज यदि गेंदबाज के गेंद फेंकने से पहले क्रीज से बाहर निकल जाता है और उसके बाद गेंदबाज गेंद फेंकने के बजाय अपने छोर पर लगे स्टंप की गिल्लियां गिरा देता है तो नियमों के मुताबिक बल्लेबाज मांकडिंग के जरिये रन आउट माना जाता है। इसमें उस गेंद को रिकार्ड में दर्ज नहीं करते, लेकिन विकेट गिरा माना जाता है।

वीनू मांकड पर पड़ा नाम :

मांकडिंग नाम भारतीय खिलाड़ी वीनू मांकड़ के नाम पर पड़ा है। उन्होंने 1947-48 में आस्ट्रेलिया दौरे पर बिल ब्राउन को इस तरह से आउट किया था। तब से इस तरह से आउट करने के तरीके को मांकडिंग रन आउट के नाम से पुकारा जाता है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.