दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

महिला क्रिकेट टीम के कोच पद से हटने के बाद रमन ने गांगुली और द्रविड को लिखा पत्र, लगाया ये आरोप

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के अपदस्थ कोच डब्ल्यूवी रमन।

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के अपदस्थ कोच डब्ल्यूवी रमन ने बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली को ईमेल कर आरोप लगाया है कि राष्ट्रीय टीम में आत्मदंभी संस्कृति है और इसे बदलने की जरूरत है। रमन ने इस ईमेल को राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख राहुल द्रविड़ को भेजा है।

TaniskSat, 15 May 2021 07:25 AM (IST)

नई दिल्ली, प्रेट्र। भारतीय महिला क्रिकेट टीम के अपदस्थ कोच डब्ल्यूवी रमन ने बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली को ईमेल कर आरोप लगाया है कि राष्ट्रीय टीम में आत्मदंभी संस्कृति है और इसे बदलने की जरूरत है। रमन ने इस ईमेल को राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख राहुल द्रविड़ को भेजा है और कहा कि अगर उनसे सलाह मांगी गई तो वह देश में महिला क्रिकेट के लिए खाका तैयार कर सकते हैं।

पूर्व क्रिकेट मदन लाल की अगुआई वाली क्रिकेट सलाहकार समिति ने गुरुवार को एक आश्चर्यचकित करने वाला फैसला लेते हुए राष्ट्रीय महिला टीम के कोच के लिए रमन की जगह रमेश पोवार का चयन किया। रमन के इस ईमेल की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने कहा, 'जहां तक मुझे पता है रमन ने कहा है कि वह हमेशा टीम को हर किसी से ऊपर रखने में विश्वास करते हैं और इस बात पर जोर देते हैं कि कोई भी व्यक्ति वास्तव में आत्मदंभी नहीं हो सकता।'

पत्र लिखने से विवाद भी हो सकता है

बायें हाथ के इस कलात्मक बल्लेबाज के द्वारा दो पूर्व कप्तानों को पत्र लिखने से कुछ विवाद भी हो सकता है, क्योंकि खिलाड़ियों के साथ मतभेद में हमेशा कोच को बलि देना होता है, खासकर जिस तरह से मिताली राज के मामले में हुआ था। हालांकि, रमन ने  इस पत्र में किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन यह समझा जाता है कि उन्होंने टीम में प्रचलित स्टार संस्कृति के बारे में विस्तार से बात की है, जिससे फायदा से ज्यादा नुकसान हो रहा है।

गांगुली और द्रविड को पत्र मिला

रमन से इस बारे में बात करने की कई बार कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। इस मामले की जानकारी रखने वाले सूत्र ने बताया कि गांगुली और द्रविड को उनका पत्र मिल गया है। यह पता चला है कि रमन ने खास व्यक्तियों के बारे में लिखा है, जिन्हें टीम को खुद से ऊपर रखने की जरूरत है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.