महामुकाबला हारने के बाद भी विराट कोहली को नहीं है इस बात का पछतावा, दिया ये बयान

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल हारने के बाद कहा है कि उन्हें इस बात का पछतावा नहीं है कि उन्होंने खिताबी मैच का पहला दिन बारिश में धुलने के बाद भी टीम में बदलाव क्यों नहीं किया।

Vikash GaurThu, 24 Jun 2021 07:57 AM (IST)
विराट कोहली को प्लेइंग इलेवन नहीं बदलने का पछतावा नहीं है (फाइल फोटो)

नई दिल्ली, जेएनएन। लगातार पांच साल से आइसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन की कुर्सी पर विराजमान भारतीय टीम को आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का खिताब जीतने की प्रबल दावेदार माना जा रहा था। हालांकि, न्यूजीलैंड को भी खिताबी जीत के लिए दावेदार कहा जा रहा था, लेकिन पिछले प्रदर्शन को देखते हुए भारत के पास ज्यादा मौका था, लेकिन इस मौके को विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम ने गंवा दिया। खिताबी जीत के बाद कप्तान विराट कोहली ने अजीब-अजीब बहाने बनाए।

कप्तान विराट कोहली ने मैच के बाद कहा, "सबसे पहले तो केन विलियमसन और उनकी टीम को बहुत-बहुत बधाई। उन्होंने बड़ी निरंतरता और बड़ा दिल दिखाया है, और तीन दिनों में परिणाम प्राप्त कर लिया। न्यूजीलैंड ने दबाव के इस खेल में शानदार प्रदर्शन किया और हमें पूरे टेस्ट मैच में दवाब में रखा। पहला दिन बारिश से धुल गया और फिर बाद में जब खेल शुरू हुआ तो लय कायम रखना मुश्किल था। हमने पहली पारी में अच्छी गेंदबाजी की।"

कप्तान कोहली ने आगे कहा, "इस सुबह (रिजर्व डे) ने अंतर पैदा किया, जहां उनके गेंदबाजों ने अपनी योजनाओं को सही तरीके से अंजाम दिया और हमें रन बनाने का मौका नहीं दिया। हमें अधिक रन बनाने की जरूरत थी। मुझे लगता है कि चौथी पारी में 30 या 40 रन कम रह गए। हम उनके जल्दी चार विकेट भी नहीं निकाल पाए।" भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली इस बात से निराश नहीं हैं कि उन्होंने प्लेइंग इलेवन में बदलाव क्यों नहीं किया?

शुक्रवार से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला शुरू होना था। ऐसे में गुरुवार को ही भारतीय टीम ने अपनी अंतिम एकादश का ऐलान कर दिया था। बारिश की वजह से शुक्रवार को मैच शुरू नहीं हुआ। वहीं, न्यूजीलैंड ने टॉस के समय यानी शनिवार को अपनी प्लेइंग इलेवन चुनी और पांच गेंदबाजों को उतारा, लेकिन कप्तान विराट कोहली अपनी पिछली अंतिम 11 पर ही टिके रहे। यहां तक कि खिताबी मुकाबला हारने के बाद भी उनको इस पर पछतावा नहीं है।

उन्होंने कहा, "मुझे अपनी इलेवन की घोषणा पहले से करने का कोई अफसोस नहीं है, क्योंकि आपको टीम में एक ऑलराउंडर की जरूरत है, लेकिन हमने सर्वसम्मत निर्णय लिया कि ये सर्वश्रेष्ठ इलेवन है, जिसे हम मैदान में ले जा सकते हैं। हमें लगा कि यह हमारा सर्वश्रेष्ठ संयोजन है और साथ में बल्लेबाजी में भी गहराई है और अंतिम समय में स्पिनर भी अपना प्रभाव छोड़ सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।"

वहीं, WTC और जैमीसन को लेकर कप्तान विराट कोहली ने कहा, "जैमीसन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अच्छी तरह से आए हैं - गेंद के साथ अच्छे क्षेत्र, और वह काफी अच्छी बल्लेबाजी भी कर सकते हैं। उनका खेल बहुत अच्छा रहा है और वह मैन ऑफ द मैच पुरस्कार के हकदार हैं। यह खेल (डब्ल्यूटीसी) के लिए बहुत अच्छा है और जितना अधिक टेस्ट क्रिकेट को महत्व दिया जाएगा, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए उतना ही बेहतर होगा। यह आइसीसी का अच्छा कदम है। टेस्ट क्रिकेट खेल की धड़कन है। यह आगे लंबा समर सीजन है और हम वास्तव में अगली सीरीज (इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट) की प्रतीक्षा कर रहे हैं।"

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.