दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

CSK के लिए आइपीएल 2021 में कौन प्लेयर साबित हुआ गेम चेंजर, पार्थिव पटेल ने बताया नाम

कप्तान धौनी के साथ सीएसके टीम के खिलाड़ी (एपी फोटो)

पार्थिव पटेल ने कहा कि सुरेश रैना और अंबाती रायुडू दोनों ने ही मिले मौके का सही इस्तेमाल किया और अर्धशतक लगाए तो वहीं रवींद्र जडेजा ने अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने धौनी की तारीफ करते हुए कहा मोइन को तीसरे नंबर पर भेजने का उनका फैसला सही साबित हुआ।

Sanjay SavernSun, 09 May 2021 06:36 PM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स का प्रदर्शन आइपीएल 2021 स्थगित होने तक काफी अच्छा रहा था और ये टीम 7 में से 5 मैच जीतकर 10 अंक के साथ अंकतालिका में दूसरे नंबर पर थी। इस बार धौनी बेशक बल्ले से ज्यादा अच्छे नहीं रहे, लेकिन उनकी कप्तानी शानदार रही थी और टीम के कई खिलाड़ी खास तौर पर मोइन अली, रवींद्र जडेजा, डुप्लेसिस व रितुराज गायकवाड़ काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। बेशक सीएसके की तरफ से कई खिलाड़ी इस सीजन में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे, लेकिन टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने बताया कि, इस बार सीएसके के लिए कौन खिलाड़ी गेमचेंजर साबित हुआ।

पार्थिव पटेल ने स्टार स्पोर्ट्स के साथ बातचीत करते हुए कहा कि, इस बार सीएसके के लिए मोइन अली गेंम चेंजर साबित हुए। वो ओपनिंग कर सकते हैं तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं और उन्होंने अपनी टीम के लिए ये बखूबी किया। रितुराज गायकवाड़ और डुप्लेसिस जब अच्छी शुरुआत देते थे वो उसे कायम रखते थे। उन्होंने इस तरह का प्रदर्शन करता देखकर मुझे अच्छा लगा। वैसे सबसे जरूरी है कि, आप एक टीम के तौर पर कमबैक करें और सीएसके ने इस सीजन में ये करके दिखाया। सीएसके के ओपनर्स ने जहां अच्छा प्रदर्शन किया तो वहीं टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाजों ने भी कमाल किया। 

पार्थिव पटेल ने आगे कहा कि, सुरेश रैना और अंबाती रायुडू दोनों ने ही मिले मौके का सही इस्तेमाल किया और अर्धशतक लगाए तो वहीं रवींद्र जडेजा ने भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया। पार्थिव ने धौनी की तारीफ करते हुए कहा कि, उन्होंने मोइन अली को तीसरे नंबर पर भेजा और ये काम कर गया। धौनी को पता था कि, रैना तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं, लेकिन इस बार उन्होंने मोइन अली को इस नंबर पर भेजा क्योंकि उन्हें पता था कि किस तरह का बदलाव उन्हें करना है। धौनी फिर से निचले नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आए क्योंकि वो जानते थे कि, उनके पास ऐसे खिलाड़ी हैं जो उपर अच्छा कर सकते हैं और उन्होंने उन खिलाड़ियों को मौका दिया। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.