हैदराबाद के बल्लेबाजों को लक्ष्मण ने लगाई लताड़, बोले- केवल बाउंड्री लगाने पर निर्भर नहीं रह सकते

सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटर वीवीएस लक्ष्मण। (एएनआइ)

इपीएल 2021 लगातार तीन हार से मायूस सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटर वीवीएस लक्ष्मण ने बल्लेबाजों को लताड़ लगाई है। उन्होंने बताया कि टीम से कहां चूक हुई। लक्ष्मण ने कहा कि चेपक जैसी कठिन पिच पर बाउंड्री न मिलने पर उनके बल्लेबाज स्ट्राइक को रोटेट नहीं कर पा रहे थे।

TaniskSun, 18 Apr 2021 01:49 PM (IST)

चेन्नई, पीटीआइ। आइपीएल 2021 लगातार तीन हार से मायूस सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटर वीवीएस लक्ष्मण ने बल्लेबाजों को लताड़ लगाई है। उन्होंने बताया कि टीम से कहां चूक हुई। लक्ष्मण ने कहा कि चेपक जैसी कठिन पिच पर मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों के खिलाफ बाउंड्री न मिलने पर उनके बल्लेबाज स्ट्राइक को रोटेट नहीं कर पा रहे थे। 151 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए, हैदराबाद की टीम 19.4 ओवरों में केवल 137 रन बना सकी। टीम के बल्लेबाज शनिवार को बीच के ओवरों में रन बनाने के लिए जूझते नजर आए। मैच के बाद लक्ष्मण ने कहा विशेष रूप से इस तरह के विकेटों पर सिंगल और डबल लेना एक बहुत ही महत्वपूर्ण कौशल है। यहां गेंद हिट करना आसान नहीं है। आप केवल चौके और छक्कों के भरोसे नहीं रह सकते।

लक्ष्मण ने कहा कि डॉट बॉल भी कम खेलना महत्वपूर्ण है। ऐसा आप केवल स्ट्राइक रोटेट करके ही कर सकते हैं। यह खेल का एक पहलू है जो इस प्रकार के विकेटों पर बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से हम ऐसा नहीं कर पा रहे थे, खासकर तब जब राहुल चाहर गेंदबाजी कर रहे थे और तब भी जब  बीच के ओवरों  अन्य तेज गेंदबाजमें गेंदबाजी कर रहे थे।लक्ष्मण ने कहा कि  गेंद पुरानी होन के बाद आक्रामक क्रिकेट खेलना चुनौतीपूर्ण था। उन्होंने पावरप्ले के उपयोग के महत्व पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि गेंद रुककर आ रही थी । स्पिनरों को उछाल के साथ-साथ टर्न भीमिल रहा था। यह उन पहलुओं में से एक है, जिसकी चर्चा हमने की थी।

लक्ष्मण ने आगे कहा कि जॉनी बेयरस्टो और डेविड वार्नर ने पावरप्ले का फायदा उठाा। यह आगे के मैचों में बहुत महत्वपूर्ण होगा। खासकर तब जब आप चेन्नई जैसी धीमी पिच पर क्रिकेट खेल रहे होंगे। नए बॉल और प्वारप्ले का फायदा उठाना काफी जरूरी है। इससे आने वाले बल्लेबाजों पर से प्रेशर कम हो जाता है। लक्ष्मण ने एक सेट बल्लेबाज के मैच के अंततक बल्लेबाजी करने को भी अहम  बताया। 

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.