टीम इंडिया के साहस और निडरता के आगे नतमस्तक हुआ पूर्व पाकिस्तानी कप्तान, कहा- जज्बे को सलाम

महज पांच बल्लेबाजों के साथ मैदान पर श्रीलंका की टीम का सामना करने उतरी भारतीय टीम की पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने जमकर तारीफ की। उन्होंने भारतीय टीम के फैसले को बेहद साहसिक बताया और कहा कि इस टीम ने जो निडरता दिखाई वो अपने आप में मिसाल है।

Sanjay SavernThu, 29 Jul 2021 05:28 PM (IST)
श्रीलंका दौरे पर टीम इंडिया के खिलाड़ी (एपी फोटो)

नई दिल्ली, ऑनलाइड डेस्क। श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टी20 मुकाबले से पहले क्रुणाल पांड्या कोविड पॉजिटिव क्या हुए कई सारी समस्याएं एक साथ भारतीय टीम के सामने आकर खड़ी हो गई। खैर कई नाटकीय घटनाओं के बाद आखिरकार टीम इंडिया मैदान पर उतरी। दूसरे मुकाबले के लिए टीम इंडिया के पास सिमित खिलाड़ी ही मौजूद थे और इनके बूते ही धवन की अगुआई में भारतीय टीम ने मेजबान टीम का मुकाबला किया। दूसरे मैच में टीम इंडिया सिर्फ 5 बल्लेबाजों के साथ मैदान पर उतरी थी जो इस टीम के लिए आदर्श स्थिति नहीं थी। पर टीम मजबूत नहीं होने की स्थिति में भी टीम इंडिया ने जो जज्बा दिखाया वो कमाल का था। 

महज पांच बल्लेबाजों के साथ मैदान पर श्रीलंका की टीम का सामना करने उतरी भारतीय टीम की पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने जमकर तारीफ की। उन्होंने भारतीय टीम के फैसले को बेहद साहसिक बताया और कहा कि, इस टीम ने जो निडरता दिखाई वो अपने आप में एक मिसाल है। अपने यूट्यूब चैनल पर इंजमाम ने कहा कि, 9 भारतीय खिलाड़ी मैच में चयन के लिए उपलब्ध नहीं थे और इस टीम के पास मुकाबला नहीं खेलने का भी विकल्प मौजूद था। इस परिस्थिति के बावजूद उन्होंने खेलने का फैसला किया इससे पता चलता है कि, टीम इंडिया को हार का डर नहीं है। जब आपको हार का डर नहीं होता तो फिर जीत का रास्ता अपने आप खुल जाता है। उन्हें टीम में बाकी बचे खिलाड़ियों पर पूरा भरोसा था। टीम में सिर्फ पांच बल्लेबाज थे और इस वजह से भुवनेश्वर कुमार छठे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे। 

उन्होंने कहा कि, टीम इंडिया इन दिनों काफी मजबूत क्रिकेट खेल रही है, क्योंकि मानसिक रूप से वो कड़ी चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार है। भारतीय टीम कई खिलाड़ियों को इंग्लैंड भी भेज रही है , जहां कुछ खिलाड़ी चोट के कारण दौरे से बाहर हो गए हैं। वे दूसरा T20I भले ही हार गए हो लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। हालाँकि भारत केवल 132 रन ही बना पाया और श्रीलंका ने दो गेंद शेष रहते मैच जीत लिया लेकिन टीम इंडिया का ये एक शानदार प्रयास था और ये उनके जज्बे को जाहिर करता है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.