Ind vs Eng: अश्विन का खुलासा, इस मैच से पहले लगातार 8 घंटे तक वीडियो देख रहे थे

भारतीय स्पिनर आर अश्विन कप्तान विराट कोहली के साथ- फोटो ट्विटर पेज

अश्विन ने 400वां टेस्ट विकेट हासिल करने पर कहा मैं इस पल में सिर्फ मैच में था और जब डीआरएस की सोच रहा था। इसके बाद मुझे एहसास हुआ मेरे 400 टेस्ट विकेट का। जब बोर्ड पर दिखाया गया कि मैंने ऐसा कर लिया है।

Viplove KumarSat, 27 Feb 2021 12:23 PM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय स्पिनर आर अश्विन ने अहमदाबाद टेस्ट मैच के दौरान 400 टेस्ट विकेट पूरे किए। श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन के बाद सबसे तेज इतने विकेट लेने वाले अश्विन दुनिया के एक मात्र गेंदबाज हैं। 77 टेस्ट मैचों में इस भारतीय गेंदबाज ने यह खास उपलब्धि हासिल की। अश्विन ने बताया कि एडिलेड में मैच से पहले उन्होंने लगातार 8 घंटे तक वीडियो फुटेज देखा था।

अश्विन ने बताया, "ऑस्ट्रेलिया में एडिलेड टेस्ट मैच से पहले मैंने लगातार आठ घंटे तक पुराने वीडियो को देखा था। मेरी तैयारी इस दौरान किसी और की स्तर पर चल रही थी। मुझे इस बात का बिल्कुल भी पता नहीं कि ऐसा क्यों किया लेकिन बस मैं किसी भी चीज को छोड़ना नहीं चाहता था। इससे पहले भी मैं काफी सारे वीडियो देखा करता था लेकिन मुझे लगता है कि इस बात को खेल को समझे की चाहत काफी आगे बढ़ गई थी।"

आगे उन्होंने कहा, "लॉकडाउन के दौरान क्या हुआ कि मैं पहले के काफी सारे मुकाबलों को देख रहा था। जैसे कि सचिन तेंदुलकर का चेपॉक में लगाया शतक और इसी तरह के बाकी सारी चीजें। इस तरह से मैं काफी अच्छी लाइन तैयार कर ली फिर मैंने सोचा कि ऐसी चीजों के मैंने पहले क्यों नहीं किया। यही बातें मुझे तंग करने लगी और मेरे दिमाग में एक दम से अटक गई। इसके बाद मैंने अलग तरह से फुटेज को देखना शुरू किया, एक बार जब मैंने इसे देखना शुरू किया तो फिर मुझे मजा आने लगा। मैं पकड़ने लगा कि बल्लेबाज क्या करने वाले हैं इससे पहले कि मैं दूसरी गेंद डालता। मुझे जैसे इस बात का अंदाजा लगने लगा था कि आगे किस तरह का शॉट वो खेलने वाले हैं।"

"यह बिल्कुल खाली सा था क्योंकि ईमानदारी के कहूं तो हम काफी ज्यादा दबाव में थे। मैच बराबरी पर था क्योंकि हमने 30 रन से ज्यादा की ही बढ़त बनाई थी। मैं इस पल में सिर्फ मैच में था और जब डीआरएस की सोच रहा था। इसके बाद मुझे एहसास हुआ मेरे 400 टेस्ट विकेट का। जब बोर्ड पर दिखाया गया कि मैंने ऐसा कर लिया है। पूरे स्टेडियम में लोग तालियां बजा रहे थे और मैं बता नहीं सकता कि उस वक्त कैसा महसूस कर रहा था।"

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.