Krsnaa Diagnostics IPO: 4 अगस्त से इस ऑफर में कर सकते हैं इंवेस्ट, जानिए प्राइस बैंड, लॉट साइज और फंडामेंटल्स

Krsnaa Diagnostics का करीब 1213 करोड़ रुपये का इनिशियल पब्लिक ऑफर चार अगस्त (बुधवार) को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा। इस आईपीओ में छह अगस्त तक इंवेस्ट किया जा सकता है। इस IPO के तहत 400 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे।

Ankit KumarMon, 02 Aug 2021 06:27 PM (IST)
मौजूदा शेयरहोल्डर्स ऑफर फॉर सेल के जरिए 8,525,520 इक्विटी शेयरों की बिक्री करेंगे।

नई दिल्ली, पीटीआइ। Krsnaa Diagnostics का करीब 1,213 करोड़ रुपये का इनिशियल पब्लिक ऑफर चार अगस्त (बुधवार) को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा। इस आईपीओ में छह अगस्त तक इंवेस्ट किया जा सकता है। कंपनी की ओर से आयोजित एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा गया है कि एंकर इंवेस्टर्स तीन अगस्त से बोली लगा सकते हैं। इस IPO के तहत 400 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। दूसरी ओर, मौजूदा शेयरहोल्डर्स ऑफर फॉर सेल के जरिए 8,525,520 इक्विटी शेयरों की बिक्री करेंगे।

Krsnaa Diagnostics IPO Price Band and Lot Size

कंपनी ने इस IPO के लिए 933-954 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड निर्धारित किया है। इस तरह अपर प्राइस बैंड के हिसाब से देखा जाए तो कंपनी इस IPO के जरिए 1,213.3 करोड़ रुपये जुटाएगी। कंपनी ने कहा है कि निवेशकों को कम-से-कम 15 इक्विटी शेयरों के लिए निवेश करना होगा। इस तरह इस आईपीओ का लॉट साइज 15 शेयरों का है। अपर प्राइस बैंड से देखा जाए तो इस आईपीओ में कम-से-कम 14,310 रुपये का निवेश करना होगा।

ये शेयरहोल्डर इतने शेयरों की करेंगे बिक्री

OFS के तहत Phi Capital 16 लाख इक्विटी शेयरों, Kitara 33,40,713 इक्विटी शेयरों, समरसेट इंडस हेल्थकेयर फंड आई लिमिटेड 35,63,427 और Lotus Management Solutions 21,380 इक्विटी शेयरों की बिक्री करेंगे।

IPO से प्राप्त राशि का कहां होगा इस्तेमाल

नए शेयरों को जारी करने से होने वाली आय का इस्तेमाल कंपनी पंजाब, कर्नाटक, हिमाचल प्रदेश और महाराष्ट्र में नए डायग्नोस्टिक सेंटर की स्थापना, लोन के भुगतान और सामान्य कॉरपोरेट जरूरतों के लिए करेगी। जेएम फाइनेंशियल लिमिटेड, डीएएम कैपिटल एडवाइजर्स लिमिटेड, इन्क्वायर्स कैपिटल प्राइवेट और IIFL सिक्योरिटीज इस इश्यू के मर्चेंट बैंकर्स हैं।

जानिए कंपनी से जुड़े फंडामेंटल्स

Krsnaa Diagnostics देशभर में सरकारी और निजी अस्पतालों के साथ-साथ मेडिकल कॉलेजों को इमेजिंग, पैथोलॉजी, क्लीनिकल लैबरॉटरी और टेली-रेडियोलॉजी सर्विसेज उपलब्ध कराती है। कंपनी का मुख्य जोर पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) डायग्नोस्टिक सेग्मेंट पर होता है। डायग्नोस्टिक पीपीपी सेग्मेंट में इसकी उपस्थिति सबसे ज्यादा है।

जून 2021 तक कंपनी देश के 13 राज्यों में 1,823 डॉयग्नोस्टिक सेंटर्स के जरिए रेडियोलॉजी और पैथलॉजी सर्विसेज उपलब्ध करा रही थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.