अरबपति बनने की चाहत आपको आगे बढ़ाने की बजाय कर सकती है हतोत्साहित, हासिल करें छोटे-छोटे लक्ष्य

निवेश के लिए प्रतीकात्मक तस्वीर PC: Pixabay

Investment Tips जब आप अरबपति बनना चाहते हैं तो यह समझना मुश्किल हो जाता है कि कहां से शुरू करें। एक अरब बहुत बड़ी रकम है। यह मजाक नहीं है। बहुत से लोगों को यह भी अंदाजा नहीं होगा कि 10 लाख कितनी ज्यादा रकम है।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 10:08 AM (IST) Author: Pawan Jayaswal

नई दिल्ली, धीरेंद्र कुमार। अरबपति बनना ऐसी चाहत है, जो कई लोगों के मन में आती है। हालांकि, अक्सर यह चाहत उन्हें आगे बढ़ाने के बजाय हतोत्साहित कर देती है। लक्ष्य ऐसा रखना चाहिए, जिसे पाने की संभावना हो। छोटे-छोटे लक्ष्य हासिल करते हुए बड़े की ओर बढ़ना सही कदम होता है। वहीं ऐसा बड़ा लक्ष्य रख लेना, जिसे हासिल करना असंभव लगने लगे, वह निराशा का कारण बन जाता है और फिर व्यक्ति छोटे लक्ष्य की ओर भी कदम नहीं बढ़ा पाता है।

जब आप अरबपति बनना चाहते हैं तो यह समझना मुश्किल हो जाता है कि कहां से शुरू करें। एक अरब बहुत बड़ी रकम है। यह मजाक नहीं है। बहुत से लोगों को यह भी अंदाजा नहीं होगा कि 10 लाख कितनी ज्यादा रकम है।

इसे ऐसे समझिए, अगर आप अभी हर माह 20,000 रुपये जमा करना शुरू करें तो मार्च, 2025 तक आप 10 लाख रुपये इकठ्ठा कर सकते हैं। इसी दर से एक अरब रुपये जुटाने के लिए चार हजार साल से अधिक का समय लगेगा। आप मिलने वाले ब्याज आदि की बात कर सकते हैं, लेकिन फिर भी बड़ा अंतर है।

इक्विटी निवेशक इस बात को जानते हैं कि जिन लोगों को आजकल अरबपति कहा जाता है वे वास्तव में अरबपति नहीं हैं। आम तौर पर इनमें से ज्यादातर किसी बिजनेस के एक हिस्से के मालिक होते हैं जिसका बाजार पूंजीकरण एक अरब से अधिक होता है। यह रकम बहुत तेजी से गायब भी हो सकती है। यह कॉलम वास्तव में एक अरब की रकम बनाने के बारे में नहीं है। मैं आपसे कुछ और साझा कर सकता हूं जो ज्यादा फायदेमंद है।

सबसे खराब बात यह है कि बहुत ऊंचा लक्ष्य रखना आपको बचत और निवेश शुरू करने से रोकता है। आपको यह सुनने में अजीब लग सकता है लेकिन यह काफी हद तक सच है। अगर आप अरबपति बनने की प्लानिंग कर रहे हैं और आप हर माह 20,000 रुपये बचा सकते हैं तो आपको यह निराशाजनक लगेगा। आपके पास 4,000 साल नहीं है कि आप लक्ष्य करीब आने का इंतजार करते रहें। हालांकि, हासिल किया जा सकने वाला लक्ष्य तय करना आपकी जिंदगी में सकारात्मक बदलाव ला सकता है।

वास्तविकता से दूर लक्ष्य एक बड़ी समस्या है। बहुत से ऐसे लक्ष्य होते हैं, जिनके बारे में हमें लगता है कि इसे हासिल किया जा सकता है, लेकिन अगर सही तरह से आंकड़ों पर गौर करें तो लक्ष्य हासिल कर पाने की संभावना बहुत कम होती है।

उदाहरण के लिए मान लेते हैं कि आप पांच साल में 50 लाख रुपये की रकम जुटाना चाहते हैं और आप हर माह 25,000 से 30,000 रुपये की रकम बचा कर ऐसा करना चाहते हैं। आपको ऐसा लग सकता है कि इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है लेकिन वास्तव में ऐसा करना मुश्किल है। कोई भी यथार्थवादी एडवाइजर या ऑनलाइन कैलकुलेटर आपको यह नहीं बताएगा कि ऐसा हो सकता है। निश्चित तौर पर इससे हतोत्साहित होकर कई लोग बचत की शुरुआत भी नहीं करते हैं।

ध्यान रखिए, बचत और निवेश शुरू न करने के हजारों कारण हो सकते हैं और अरबपति बनने का वास्तविक मौका न होना इन कारणों में से एक हो सकता है। दूसरी तरफ बचत और निवेश शुरू करने के भी हजारों कारण हो सकते हैं। सोचना आपको है।

(लेखक वैल्यू रिसर्च ऑनलाइन डॉट कॉम के सीईओ हैं। प्रकाशित विचार उनके निजी हैं।)

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.