SBI डेबिट कार्ड हो जाता है चोरी, तो इन तरीकों से कर सकते हैं ब्लॉक

PC- pixabay Here how you can block it and apply for replacement

अगर आपने अपने एटीएम कार्ड को खो दिया है तो आप तुरंत अपने कार्ड को रजिस्टर्ड खाते से लिंक कर सकते हैं। इसके लिए अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से कार्ड के अंतिम चार अंक लिखकर 567676 पर एसएमएस कर दें।

NiteshThu, 18 Mar 2021 07:00 AM (IST)

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अगर आप SBI ग्राहक हैं, तो स्टेट बैंक अपने ग्राहकों को फोन कॉल और SMS के जरिये SBI एटीएम डेबिट कार्ड को ब्लॉक करने की सुविधा देता है। अगर डेबिट कार्ड खो जाता है या चोरी हो जाता है, तो इसके दुरुपयोग या अनधिकृत लेनदेन की संभावना अधिक होती है, यही कारण है कि कार्ड को जल्द से जल्द ब्लॉक करना बेहद जरूरी है।

अगर आपने अपने एटीएम कार्ड को खो दिया है तो आप तुरंत अपने कार्ड को रजिस्टर्ड खाते से लिंक कर सकते हैं। इसके लिए, अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से कार्ड के अंतिम चार अंक लिखकर 567676 पर एसएमएस कर दें। एक बार कार्ड ब्लॉक करने के लिए आपका अनुरोध स्वीकार कर लिया जाता है, तो टिकट नंबर, दिनांक और समय के साथ एक पुष्टिकरण SMS अलर्ट ब्लॉकिंग आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजी जाएगी।

यह भी पढ़ें: शादी के बाद पैसे की दिक्कत आ रही है तो ये 5 बातें आपके काम की हैं

SBI एटीएम कार्ड को एक फोन कॉल के जरिए ब्लॉक किया जा सकता है। एसबीआई खाताधारक शिकायत दर्ज करने और कार्ड को तुरंत ब्लॉक करने के लिए एसबीआई कस्टमर केयर नंबर पर कॉल कर सकते हैं। टोल-फ्री नंबर 18004253800 या 1800112211 पर कॉल करना होगा, यह एक इंटरैक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम (आईवीआरएस) है, जहां ग्राहकों को अपने कार्ड को ब्लॉक करने के लिए आगे के दिशानिर्देशों का पालन करना होगा।

कैसे करें ब्लॉक 

1800 112 211 डायल करें

SBI कार्ड ब्लॉक करने के लिए, 2 दबाएं

कार्ड ब्लॉक करने के लिए खाता संख्या के अंतिम 5 अंक दर्ज करें

आपका कार्ड सफलतापूर्वक ब्लॉक  हो जाएगा और आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के माध्यम से एक पुष्टिकरण भेजा जाएगा।

2. मोबाइल ऐप के जरिये

मोबाइल ऐप पर लॉग इन करें और ऊपरी बाएं हाथ के मेनू टैब पर टैप करें। अब सर्विस रिक्वेस्ट टैब पर जाएं और Reissue/ Replace Card’ पर टैप करें। फिर कार्ड नंबर चुनें और सबमिट पर क्लिक करें।

 

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.