छठ पर महंगाई भत्‍ते में आया 9 फीसद से ज्‍यादा का उछाल-इन्‍हें होगा फायदा

छठ से पहले BSNL के कर्मचारियों का भी महंगाई भत्‍ता (Dearness Allowance DA) बढ़ा दिया गया है। यह बढ़ोतरी नवंबर में लागू हुई है। इससे नवंबर की Salary में बढ़े हुए DA की रकम आएगी। साथ ही HRA की रकम भी बढ़ेगी।

Ashish DeepTue, 09 Nov 2021 03:19 PM (IST)
BSNL कर्मचारियों को डबल बेनिफिट होगा ।

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। छठ से पहले BSNL के कर्मचारियों का भी महंगाई भत्‍ता (Dearness Allowance, DA) बढ़ा दिया गया है। यह बढ़ोतरी नवंबर में लागू हुई है। इससे नवंबर की Salary में बढ़े हुए DA की रकम आएगी। साथ ही HRA की रकम भी बढ़ेगी। यानि BSNL कर्मचारियों को डबल बेनिफिट होगा।

कितनी होगी बढ़ोतरी

सरकारी आदेश के मुताबिक DA की रकम 170% से बढ़कर 179.3% हो गई है। अब BSNL के Board level और below Board level posts पर काम कर रहे लोगों को इस बढ़ी दर से DA मिलेगा। यह DA उन कर्मचारियों का बढ़ा है, जो 2007 के पे रिवीजन (Pay Revision) के आधार पर Salary पा रहे हैं। इसमें Non-executive employees को भी शामिल किया गया है।

DA 179.3% रखा गया

Assistant General Manager (Estt.I) के आदेश के मुताबिक 1 जुलाई 2021 से महंगाई भत्‍ते का रेट 170.5 फीसद से बढ़ाकर 173.8 फीसद किया गया है। और 1 अक्‍टूबर 2021 से 179.3 फीसद किया गया है।

हालांकि 1.10.2020, 1.01.2021 और 1.04.2021 के DA की रकम पर कोई असर नहीं पड़ेगा। क्‍योंकि उस दौरान DA Freeze रखा गया था। 01.10.2020 से 30.06.2021 के लिए DA 159.9% ।

इन लोगों को दिया VRS

बीते दिनों सरकार ने कहा था कि भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) में कुल 1,49,577 कर्मचारी थे, जिनमें 78,323 लोग स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति स्कीम (VRS) के तहत रिटायर हो गए हैं। संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान ने बताया था कि 1 जनवरी 2020 की स्थिति के अनुसार BSNL के कर्मचारियों की कुल संख्या 1,49,577 थी। इसके बाद 78,323 कर्मचारी VRS के तहत स्वैच्छिक रूप से रिटायर हो गए हैं।

कोई पेमेंट बकाया नहीं

VRS का विकल्प देने वाले कर्मचारियों के संबंध में विभाग की ओर से BSNL को किए जाने वाले भुगतान की कोई रकम बकाया नहीं है। विभाग ने VRS का विकल्प देने वाले कर्मचारियों के लिए BSNL को अनुग्रह राशि के रूप में 13,542.05 करोड़ रूपए की रकम का भुगतान किया है।

लैंडलाइन बढ़े

31 मार्च की स्थिति के अनुसार 2019 में देश के विभिन्न प्रदेशों में 2.17 लाख कनेक्शन थे जो 2020 में घटकर 1.91 लाख रह गए। हालांकि 2021 में इसमें वृद्धि हुयी और यह बढ़कर 2.02 करोड़ हो गए। उन्होंने कहा कि 31 मई 2021 की स्थिति के अनुसार लैंडलाइन फोन कनेक्शन बढ़कर 2.16 करोड़ हो गए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.