Stock Market Close: लगातार चौथे सत्र में बढ़त के साथ बंद हुए Sensex, Nifty, इन शेयरों में रही तेजी

सेक्टोरल इंडेक्स की बात की जाए तो ऑटोमोबाइल एफएमसीजी मेटल और पीएसयू बैंक इंडेक्स में 1-3 फीसद का उछाल दर्ज किया गया। वहीं आईटी इंडेक्स एक फीसद तक लुढ़क गया। BSE Smallcap और Midcap Indices हरे निशान के साथ बंद हुए।

Ankit KumarTue, 12 Oct 2021 03:56 PM (IST)
BSE Sensex 148.53 अंक यानी 0.25% फीसद की बढ़त के साथ 60,284.31 अंक के स्तर पर बंद हुआ।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। घरेलू शेयर बाजार लगातार चौथे सत्र में मंगलवार (12 अक्टूबर, 2021) को बढ़त के साथ बंद हुए। BSE Sensex 148.53 अंक यानी 0.25% फीसद की बढ़त के साथ 60,284.31 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। NSE Nifty 46 अंक यानी 0.26% की तेजी के साथ 17,992.00 अंक के स्तर पर बंद हुआ। Nifty पर Titan, Bajaj Auto, Bajaj Finserv, SBI और Hindalco के शेयरों में सबसे ज्यादा उछाल दर्ज किया गया। वहीं, HCL Tech, HDFC Life, Coal India, Tech Mahindra और Shree Cement के शेयरों में सबसे ज्यादा नुकसान देखने को मिला।

सेक्टोरल इंडेक्स की बात की जाए तो ऑटोमोबाइल, एफएमसीजी, मेटल और पीएसयू बैंक इंडेक्स में 1-3 फीसद का उछाल दर्ज किया गया। वहीं, आईटी इंडेक्स एक फीसद तक लुढ़क गया। BSE Smallcap और Midcap Indices हरे निशान के साथ बंद हुए।

Sensex पर इन शेयरों में रही तेजी

BSE Sensex पर Titan, Bajaj Auto, SBI, Bajaj Finserv, Nestle India, ITC, Axis Bank, Tata Steel, HUL, Kotak Mahindra Bank, IndusInd Bank, Reliance, Asian Paints, Bajaj Finance, Dr Reddy's, HDFC और L&T के शेयर हरे निशान के साथ बंद हुए।

इन शेयरों में रही गिरावट

सेंसेक्स पर HCL Tech, Tech Mahindra, Ultratech Cement, TCS, M&M, Bharti Airtel, ICICI Bank, Infosys, Sun Pharma, HDFC Bank, NTPC, Powergrid और Maruti के शेयर लाल निशान के साथ बंद हुए।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज में प्रमुख (शोध) विनोद नायर ने कहा, ''कंपनियों के तिमाही नतीजों की कमजोर शुरुआत और वैश्विक बाजारों में कमजोर रुख से आईटी स्टॉक्स में बिकवाली देखने को मिली। हालांकि, प्राइवेटाइजेशन की उम्मीदों की वजह से पीएसयू बैंक के साथ-साथ कंज्यूमर गुड्स, मेटल और ऑटो कंपनियों के स्टॉक में लिवाली से शेयर बाजार तेजी के साथ बंद हुए।''

उन्होंने कहा कि कमोडिटी की कीमतों में तेजी और ऊर्जा संकट की वजह से महंगाई दर का जोखिम बढ़ा है और इस वजह से वैश्विक बाजार में गिरावट देखने को मिली।

अन्य एशियाई बाजारों की बात की जाए तो शंघाई, हांगकांग, टोक्यो और सिओल में शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। यूरोपीय शेयर बाजारों में भी शुरुआती कारोबार में गिरावट देखने को मिल रही थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.