1 अगस्त से बदल गए हैं ये 5 नियम, आपकी जेब पर पड़ेगा सीधा असर, इन बदलावों के बारे में यहां जानिए

बैंकों से पैसे की निकासी से जुड़े विभिन्न नियम ICICI Bank के ग्राहकों के लिए किए गए प्रमुख परिवर्तन शामिल हैं। इन फैसलों का सीधा असर आम लोगों के जीवन पर पड़ेगा। इसकी वजह यह है कि ये फैसले लोगों की वित्तीय सेहत से जुड़े हुए हैं।

Ankit KumarSun, 01 Aug 2021 12:56 PM (IST)
रिजर्व बैंक (RBI) ने बल्क पेमेंट सिस्टम नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) में बदलाव किया है।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। हर महीने के पहली तारीख से कई तरह के नियमों में परिवर्तन देखने को मिलता है। ये नियम अमूमन बैंकिंग, इंश्योरेंस, एलपीजी की कीमतों से जुड़े होते हैं। अगस्त महीने की पहली तारीख से भी कई तरह के नियमों में बदलाव हो गए हैं। इनमें ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस के नियमों में बदलाव, बैंकों से पैसे की निकासी से जुड़े विभिन्न नियम, ICICI Bank के ग्राहकों के लिए किए गए प्रमुख परिवर्तन शामिल हैं। इन फैसलों का सीधा असर आम लोगों के जीवन पर पड़ेगा। इसकी वजह यह है कि ये फैसले लोगों की वित्तीय सेहत से जुड़े हुए हैं।

आइए डालते हैं आज से हो रहे प्रमुख बदलावों परः

1. छुट्टी के दिन आएगी सैलरीः रिजर्व बैंक (RBI) ने बल्क पेमेंट सिस्टम नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) में बदलाव किया है। ये सिस्टम सप्ताह में हर दिन कार्य करेगा। इसका मतलब यह है कि यह सिस्टम रविवार और छुट्टी के दिन भी काम करेगी। इस बदलाव के बाद अब अगर किसी भी महीने की पहली तारीख या कंपनियों द्वारा सैलरी दिए जाने के लिए निर्धारित तारीख को अगर रविवार पड़ता है या किसी और तरह की छुट्टी मिलती है तो भी आपके अकाउंट में उसी दिन सैलरी क्रेडिट होगी। इससे पहले तक अगर सैलरी क्रेडिट होने की तारीख पर बैंकों में छुट्टी होती थी तो सैलरी एक दिन बाद आपके अकाउंट में क्रेडिट होती थी।

ईएमआई भी छुट्टी के दिन कट जाएगीः आरबीआई द्वारा NACH से जुड़े नियमों में परिवर्तन के बाद अब छुट्टी के दिन भी म्युचुअल फंड SIPs, होम/ कार/ पर्सनल लोन की ईएमआई भी कट जाएगी।

2. एटीएम से नकदी की निकासी, लेनदेन शुल्क पर पड़ेगा ये असर

आरबीआई ने कॉमर्शियल बैंकों को 1 अगस्त 2021 से वित्तीय लेनदेन के लिए प्रति लेनदेन इंटरचेंज शुल्क 15 रुपये से बढ़ाकर 17 रुपये और सभी केंद्रों में गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए 5 रुपये से बढ़ाकर 6 रुपये करने की मंजूरी दे दी है। आरबीआई ने बैंकों को अगले साल से नकद और गैर-नकद एटीएम लेनदेन के लिए मुफ्त मासिक सीमा से अधिक शुल्क बढ़ाने की भी अनुमति दी है। इसके अतिरिक्त रिजर्व बैंक ने यह भी कहा है कि मुफ्त लेनदेन की मासिक सीमा से अधिक होने पर बैंक ग्राहकों को 1 जनवरी, 2022 से 20 रुपये के बजाय प्रति लेनदेन 21 रुपये का भुगतान करना होगा।

3. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के शुल्क

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) ने अपनी कुछ बैंकिंग शुल्कों में बदलाव का एलान किया है। ये परिवर्तन एक अगस्त, 2021 से प्रभावी हो गए हैं। IPPB ने डोरस्टेप बैंकिंग और अन्य शुल्कों में बदलाव किए हैं। इन बदलावों के तहत अब तक निशुल्क रही डोरस्टेप डिलिवरी सर्विस पर शुल्क देय होगा। ग्राहकों को बैंकों द्वारा दी जाने वाली डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस के लिए 20 रुपये और जीएसटी देना होगा। डोरस्टेप पर कैश की निकासी या डिपॉजिट सर्विस के लिए आपको प्रति ट्रांजैक्शन 20 रुपये + जीएसटी का भुगतान करना होगा।

4. ICICI Bank के ट्रांजैक्शन चार्जेज में संशोधन

आईसीआईसीआई बैंक की वेबसाइट के मुताबिक रेगुलर सेविंग अकाउंट से जुड़े विभिन्न शुल्कों में संशोधन किया गया है। ये संशोधन एक अगस्त से प्रभावी हो गए हैं। प्राइवेट सेक्टर के लीडिंग बैंक ने कैश ट्रांजैक्शन की लिमिट, एटीएम इंटरचेंज चार्जेज और चेक बुक चार्जेज में बदलाव किए हैं। आप बैंक द्वारा विभिन्न शुल्कों में किए गए बदलाव को ICICI Bank की ऑफिशियल वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं।

5. LPG Cylinder के रेट: ऑयल मार्केटिंग कंपनियां हर महीने की पहली तारीख को एलपीजी सिलेंडर के नए रेट जारी करती है। इस महीने एलपीजी सिलेंडर के दाम में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ है। दिल्ली में 14.2 किलोग्राम के नॉन-सब्सिडाइज्ड गैस सिलेंडर की कीमत 834.50 रुपये पर अपरिवर्तित है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.