RIL की खुदरा इकाई रिलायंस रिटेल को 1.75 फीसद हिस्सेदारी के बदले Silver Lake से मिला 7,500 करोड़ रुपये का भुगतान

RIL के चेयरमैन मुकेश अंबानी PIC Credit ANI
Publish Date:Sat, 26 Sep 2020 05:18 PM (IST) Author: Pawan Jayaswal

नई दिल्ली, पीटीआइ। मुकेश अंबानी की अगुआई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने शनिवार को बताया कि उसे निजी इक्विटी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स से 7,500 करोड़ रुपये का भुगतान प्राप्त हुआ है। कंपनी ने बताया कि सिल्वर लेक ने यह भुगतान रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में 1.75 फीसद हिस्सेदारी के बदले किया है। आरआईएल द्वारा बीती 9 सितंबर को इस सौदे की घोषणा की गई थी। आरआरवीएल रिलायंस इंडस्ट्रीज की खुदरा इकाई है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शेयर बाजारों को बताया है कि उसकी खुदरा इकाई रिलायंस रिटेल को एसएलपी रेनबो होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड (सिल्वर लेक) से 7,500 करोड़ रुपये का भुगतान प्राप्त हुआ है। कंपनी ने बताया कि सिल्वर लेक के पास रिलायंस रिटेल की 1.75 फीसद हिस्सेदारी चली गयी है। यहां बता दें कि इस सौदे में रिलायंस रिटेल का मूल्यांकन 4.21 लाख करोड़ रुपये किया गया था। 

यह दूसरी बार है, जब सिल्वरलेक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज की किसी इकाई में अरबों डॉलर का निवेश किया है। सिल्वरलेक ने इससे पहले जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.35 अरब डॉलर के निवेश की घोषणा की थी। सिल्वर लेक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में दो किस्तों में निवेश किया था। कंपनी ने दो किस्तों में जिओ प्लेटफॉर्म्स में कुल 2.08 फीसद हिस्सेदारी 10,202.55 करोड़ रुपये में खरीदी है। यहां बता दें कि जियो प्लेटफॉर्म्स में सिल्वर लेक के अलावा फेसबुक, गूगल, मुबाडला, केकेआर, विस्टा और जनरल अटलांटिक ने भी निवेश किया है।

सिल्वर लेक टेक्नोलॉजी सेक्टर में निवेश करनी वाली कंपनी है। कंपनी ने एयरबीएनबी, अलीबाबा, अल्फाबेट की वेरीली और वायमो इकाइयां, डेल टेक्नोलॉजीज, ट्विटर व कई दूसरी टेक्नोलॉजी क्षेत्र की कंपनियों में निवेश किया हुआ है।

यह भी पढ़ें (गहने बेचकर चुका रहा वकीलों की फीस, जी रहा हूं एक साधारण जीवन: अनील अंबानी)

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.