अडाणी एंटरप्राइजेज में एक रुपये निवेश का रिटर्न अब 800 गुना पहुंचा: गौतम अडाणी

Re 1 invested in Adani Enterprises has yielded 800 times
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 05:43 PM (IST) Author: Nitesh

नई दिल्ली, पीटीआइ। ढाई दशक पहले अडाणी एंटरप्राइजेज में किए गए निवेश पर अब रिटर्न 800 गुना हो चुका है। अडाणी समूह के प्रमुख गौतम अडाणी ने सोमवार को यह बात कही। उन्होंने कहा कि इस दौरान उनका बुनियादी ढांचा समूह अब कई 'मंचों का एकीकृत मंच' बन चुका है। 'जे.पी. मॉर्गन इंडिया शिखर सम्मेलन-भविष्य पर ध्यान' को संबोधित करते हुए अडाणी ने कहा कि उनकी कंपनी बंदरगाह से लेकर हवाईअड्डे और ऊर्जा वितरण तक के क्षेत्रों में काम करती है। समूह के इस मॉडल ने शेयर बाजार की प्रमुख छह कंपनियों को खड़ा किया। इसने हजारों लोगों को नौकरी दी और शेयरधारकों के लिए अभूतपूर्व मूल्य का निर्माण किया। 

अडाणी ने कहा, 'अडाणी एंटरप्राइजेज ने 1994 में अपना पहला आईपीओ (आरंभिक सार्वजनिक निर्गम) पेश किया था और उस समय कंपनी में किए गए एक रुपये के निवेश पर अब 800 गुना रिटर्न है।' कॉलेज की पढ़ाई बीच में ही छोड़ देने वाले 58 वर्षीय अडाणी ने जिंसों के व्यापार से अपना कारोबार शुरू किया था। अब अडाणी समूह देश की सबसे बड़ी बंदरगाह प्रबंधन कंपनी है। साथ ही देश की सबसे बड़ी हवाईअड्डा परिचालक कंपनी बनने की ओर अग्रसर है। कंपनी गैस वितरण, नवीकरणीय ऊर्जा, खनन, रक्षा और कृषि जिंसों में भी कारोबार करती है।

उन्होंने कहा कि फ्लैगशिप कंपनी अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (एईएल) के भीतर नए व्यवसायों के पोषण के लिए छह सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियों के निर्माण का नेतृत्व किया, जिसने हजारों लोगों को नौकरियां दीं और अपने शेयरधारकों को अभूतपूर्व मूल्य दिया।

उन्होंने कहा कि पिछले दो दशकों में अडाणी समूह की यात्रा निरंतर बदलाव से गुजर रही।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.