RBI ने विशेष OMO की घोषणा की, लिक्विडिटी और बाजार की स्थिति को देखकर लिया गया निर्णय

ओएमओ के तहत सरकारी प्रतिभूतियों की एकसाथ खरीद-बिक्री को ऑपरेशन ट्विस्ट कहा जाता है।
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 08:02 PM (IST) Author: Ankit Kumar

मुंबई, पीटीआइ। भारतीय रिजर्व बैंक ने गुरुवार को ऐलान किया कि वह ओपन मार्केट ऑपरेशन के जरिए एक अक्टूबर को 10-10 हजार करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों की एकसाथ खरीद-बिक्री करेगा। केंद्रीय बैंक ने बयान जारी कर कहा है, ''लिक्विडिटी और वित्तीय बाजार की मौजूदा स्थितियों के देखते हुए रिजर्व बैंक ने एक अक्टूबर को ओएमओ के जरिए 10-10 करोड़ रुपये की गवर्नमेंट सिक्योरिटीज की एकसाथ खरीद-बिक्री करेगा।'' 

(यह भी पढ़ेंः Ration Card-Aadhaar Card Linking: 30 सितंबर है राशन कार्ड को आधार से लिंक करने की आखिरी तारीख, जानें ऑनलाइन और ऑफलाइन लिंकिंग का क्‍या है तरीका) 

केंद्रीय बैंक ने कहा है कि वह लिक्विडिटी और बाजार की परिस्थतियों पर नजर बनाए रखेगा और वित्तीय बाजारों के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाना जारी रखेगा।  

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि एक अक्टूबर को वह कुल 10,000 करोड़ रुपये के तीन सिक्योरिटीज को खरीदेगा और इतनी ही राशि के दो सिक्योरिटीज की बिक्री करेगा। नीलामी के परिणाम उसी दिन जारी कर दिए जाएंगे।  

ओएमओ के तहत सरकारी प्रतिभूतियों की एकसाथ खरीद-बिक्री को ऑपरेशन ट्विस्ट कहा जाता है। इसमें लंबी अवधि की सरकारी प्रतिभूतियां खरीदी जाती हैं और छोटी अवधि की समान राशि की सरकारी प्रतिभूतियों की बिक्री की जाती है।  

केंद्रीय बैंक ने कहा कि व्यक्तिगत प्रतिभूतियों की खरीद और बिक्री की मात्रा तय करने का अधिकार उसके पास है। 

(Gold Price Today: सोने के दाम में लगातार चौथे दिन भारी गिरावट, चांदी भी हुई काफी सस्ती, जानिए आज के भाव)

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.