Nayara 1-2 साल में अपने पेट्रोल पंप नेटवर्क में करेगी 25 फीसद का इजाफा, पेट्रो-केमिकल सेक्टर में प्रवेश करेगी कंपनी

Nayara देश का सबसे बड़ा निजी ईंधन रिटेलर है। (PC: Pixabay)
Publish Date:Wed, 28 Oct 2020 08:01 PM (IST) Author: Ankit Kumar

नई दिल्ली, पीटीआइ। देश के सबसे बड़े प्राइवेट फ्यूल रिटेलर Nayara Energy की योजना अगले एक साल में देश में अपने पेट्रोल पंप के नेटवर्क में एक चौथाई तक की वृद्धि की है। देश में कंपनी के 5,800 पेट्रोल पंप हैं और कंपनी की योजना इस संख्या को 7,300 तक पहुंचाने की है। कंपनी के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर बी आनन्द ने बुधवार को यह बात कही। 'India Energy Forum of CERAWeek' को संबोधित करते हुए आनन्द ने कहा कि कंपनी पेट्रोकेमिकल सेक्टर में प्रवेश की दिशा में काम कर रही है।

रूस की दिग्गज ईंधन कंपनी Rosneft समर्थित Nayara Energy के सीईओ ने कहा कि कंपनी एक से दो साल में पेट्रोल पंप के नेटवर्क में 25 फीसद तक के इजाफे के बाद भारतीयों उपभोक्ताओं की संख्या में वृद्धि पर गौर करेगी। 

Rosneft और उसके साझीदारी ने अगस्त 2017 में 12.9 बिलियन डॉलर में एसार ऑयल का अधिग्रहण कर लिया था। इसके बाद कंपनी का नाम बदलकर Nayara Energy कर दिया गया था। 

Nayara देश का सबसे बड़ा निजी ईंधन रिटेलर है। सरकारी स्वामित्व वाली कंपनियों के देश में करीब 71,000 पेट्रोल पंप हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज और BP plc देश के दूसरे सबसे बड़े ईंधन रिटेलर हैं। इसके बाद Shell का स्थान आता है। 

आनन्द ने कहा कि देश के पेट्रोकेमिकल बिजनेस में प्रवेश के लिए Nayara 750-800 मिलियन डॉलर का निवेश कर रही है। उन्होंने कहा कि कंपनी स्पेशियालिटी केमिकल्स बिजनेस में प्रवेश करने की दिशा में काम कर रही है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.