Jagran Dialogues: क्या है NPS और क्या हैं इसमें निवेश के फायदे, जानें PFRDA के चेयरमैन की राय

अगर आप रिटायरमेंट के लिहाज से देख रहे हैं तो नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) एक बेहद आकर्षक विकल्प है। इसके अंतर्निहित फीचर्स और बेनिफिट्स इसे आकर्षक ऑप्शन बनाते हैं। रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए जल्द-से-जल्द निवेश की शुरुआत होनी चाहिए।

NiteshTue, 21 Sep 2021 04:26 PM (IST)
What is National Pension System what are the benefits

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। रिटायरमेंट प्लानिंग के लिए जल्द-से-जल्द निवेश की शुरुआत होनी चाहिए। हालांकि, कई सेल्फ-इम्प्लॉयड प्रोफेशनल्स अपनी रिटायरमेंट प्लानिंग में देरी करते हैं और कई बार तो ऐसा देखा गया है कि इसमें बहुत अधिक विलंब हो जाता है। मौजूदा दौर में कई ऐसे फाइनेंशियल प्रोडक्ट्स हैं, जो किसी भी व्यक्ति की रिटायरमेंट प्लानिंग से जुड़ी जरूरतों को पूरा करने के लिए उपलब्ध हैं। अगर आप रिटायरमेंट के लिहाज से देख रहे हैं तो नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) एक बेहद आकर्षक विकल्प है। इसके अंतर्निहित फीचर्स और बेनिफिट्स इसे आकर्षक ऑप्शन बनाते हैं। ये खुद का रोजगार करने वाले प्रोफेशनल्स और वकील, डॉक्टर, चार्टर्ड अकाउंटेंट्स और entrepreneurs, आर्किटेक्ट्स और अन्य ऐसे लोगों के लिए उपलब्ध है, जो किसी नियोक्ता के यहां काम नहीं करते हैं।

Jagran Dialogues की इस कड़ी में Jagran New Media के Manish Mishra और PFRDA के चेयरमैन Supratim Bandyopadhyay ने बातचीत की। आइए जानते हैं NPS में निवेश के फायदे।

सवाल- NPS क्या है, और ये किन लोगों के लिए है?

जवाब- Supratim Bandyopadhyay

NPS एक पेंशन स्कीम है जो रिटायरमेंट के बाद रेगुलर इनकम के लिए है। ये हर किसी के लिए है, इसमें रोजगार करने वाले प्रोफेशनल्स और वकील, डॉक्टर, चार्टर्ड अकाउंटेंट्स हर कोई ज्वाइन कर सकता है। इसमें जुड़ने के लिए उम्र 18 से ज्यादा होनी चाहिए। 18 साल से 70 तक की उम्र में कोई भी जॉइन कर सकता है। रिटायरमेंट के बाद NPS सोशल सिक्योरिटी के लिए अहम है।

सवाल- NPS के टक्कर में कई निवेश विकल्प बाजार में मौजूद हैं, NPS इनसे अलग कैसे है?

जवाब- Supratim Bandyopadhyay

पेंशन स्कीम ऐसा होना चाहिए जिसमें आपको रिटायरमेंट के बाद रेगुलर इनकम मिलना चाहिए। रिटायरमेंट के बाद लोगों को लगता है कि जरूरतें कम हो जाती हैं, लेकिन इसके बाद भी मेडिकल एक्सपेंस ज्यादा रहता है। इसमें रिटायरमेंट के बाद अपनी पूंजी का एक हिस्सा छोड़ने के लिए कोई अनिवार्यता नहीं है। NPS में जितनी पूंजी बनी होती है उसके 40 फीसद से ऊपर पेंशन लेना है। इससे एक रेगुलर इनकम आता रहेगा। इस हिसाब से EPFO और MUtual Fund से NPS काफी अलग है।

यहां देखें पूरा वीडियो

सवाल- लोगों के मन में एक धारणा होती है कि अगर पैसा NPS में डाला तो लॉक हो जाएगा?

जवाब- Supratim Bandyopadhyay

ये धारणा गलत है और पार्शियल withdrawal कर सकते हैं। 25 फीसद तक एकबार निकाल सकते हैं। ये बच्चों की शादी के लिए है, हायर एजुकेशन के लिए है, घर बनाने के लिए है। मकान खरीदना चाहते हैं तो उसके लिए भी ले सकते हैं। अपने योगदान का 25 फीसद ले सकते हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.