Infosys ने नए Income Tax Portal को लेकर दी ये अहम जानकारी, आपके लिए भी जानना है जरूरी

Infosys ने गुरुवार को इस बात को स्वीकार किया कि कुछ यूजर्स को अब भी इनकम टैक्स पोर्टल को एक्सेस करने में दिक्कत पेश आ रही है। कंपनी इनकम टैक्स विभाग के साथ मिलकर वेबसाइट एवं यूजर एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने की दिशा में काम कर रही है।

Ankit KumarThu, 23 Sep 2021 02:14 PM (IST)
Infosys ने कहा कि पिछले कुछ सप्ताह में वेबसाइट के यूजर्स की संख्या में लगातार वृद्धि देखे को मिली है।

नई दिल्ली, पीटीआइ। आईटी सेक्टर की प्रमुख कंपनी Infosys ने गुरुवार को इस बात को स्वीकार किया कि कुछ यूजर्स को अब भी इनकम टैक्स पोर्टल को एक्सेस करने में दिक्कत पेश आ रही है। कंपनी ने आश्वस्त करते हुए कहा कि कंपनी इनकम टैक्स विभाग के साथ मिलकर वेबसाइट एवं यूजर एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने की दिशा में काम कर रही है। बेंगलुरु स्थित कंपनी ने कहा कि पिछले कुछ सप्ताह में वेबसाइट के यूजर्स की संख्या में लगातार वृद्धि देखे को मिली है और तीन करोड़ से ज्यादा टैक्सपेयर्स ने पोर्टल पर लॉग-इन किया है और विभिन्न ट्रांजैक्शन को सफलतापूर्वक पूरा किया है।

इन्फोसिस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, ''पोर्टल में लगातार प्रगति हो रही है और इसकी बदौलत करोड़ों टैक्सपेयर्स ने सफलतापूर्वक ट्रांजैक्शन पूरे किए हैं। इसके बाद भी कंपनी यह स्वीकार करती है कि कुछ यूजर्स को दिक्कतें पेश आ रही हैं। कंपनी आयकर विभाग के साथ मिलकर चीजों को ठीक करने और यूजर एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने में लगी है।''

कंपनी ने कहा कि पिछले कुछ सप्ताह में पोर्टल के इस्तेमाल में वृद्धि हुई है क्योंकि टैक्सपेयर्स की कई समस्याओं का समाधान हुआ है। इन्फोसिस ने कहा कि अब तक तीन करोड़ से ज्यादा टैक्सपेयर्स ने पोर्टल पर लॉग इन किया है और अपने ट्रांजैक्शन पूरे किए हैं।

इन्फोसिस ने कहा कि वह कुछ यूजर्स को पेश आ रही दिक्कतों को मानता है और उसने 1,200 से ज्यादा टैक्सपेयर्स को उनकी दिक्कतों को समझने के लिए अपने साथ जोड़ा है।

इस बयान में कहा गया है कि कंपनी का ध्यान इन चुनौतियों के जल्द समाधान पर है और कंपनी वेबसाइट को पूरी तरह दुरुस्त करने के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट्स के साथ मिलकर काम कर रही है।

इसमें साथ ही कहा गया है कि इन्फोसिस लगातार प्रगति के लिए प्रतिबद्ध है और वेबसाइट के काम को पूरा करने के लिए 750 से ज्यादा लोग लगे हुए हैं।

इन्फोसिस को 2019 में अगली पीढ़ी का इनकम टैक्स फाइलिंग सिस्टम विकसित करने और रिटर्न फाइल करने के प्रोसेसिंग टाइम को घटाकर एक दिन करने और रिफंड की प्रक्रिया को गति देने के लिए 2019 में एक कॉन्ट्रैक्ट दिया गया था। इस पोर्टल को इस साल जून को लॉन्च किया गया था।

हालांकि, लॉन्च के दिन से वेबसाइट से जुड़ी कई तरह की समस्याएं देखने को मिल रही हैं। पोर्टल को यूज करने वाले टैक्सपेयर्स और प्रोफेशनल पोर्टल के कामकाज से जुड़ी गड़बड़ियों को लगातार रिपोर्ट करते रहे हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.