जनवरी-मार्च में आए 2.5 बिलियन डॉलर के 22 IPO, जानें अप्रैल से जून के बीच क्या रहेगा आईपीओ मार्केट का हाल

इस साल की पहली तिमाही में 22 आईपीओ आए।

भारत में 2021 के पहले तीन महीनों में कुल 2.5 बिलियन डॉलर मूल्य से अधिक कुल 22 इनिशियल पब्लिक ऑफर आए। देश के पूंजी बाजार में काफी अधिक उत्साही माहौल के बीच ये IPO आए। अगली तिमाही में भी इस ट्रेंड के जारी रहने की संभावना है।

Ankit KumarWed, 21 Apr 2021 06:12 PM (IST)

नई दिल्ली, पीटीआइ। भारत में 2021 के पहले तीन महीनों में कुल 2.5 बिलियन डॉलर मूल्य से अधिक कुल 22 इनिशियल पब्लिक ऑफर आए। देश के पूंजी बाजार में काफी अधिक उत्साही माहौल के बीच ये IPO आए। अगली तिमाही में भी इस ट्रेंड के जारी रहने की संभावना है। एक नई रिपोर्ट में ऐसा कहा गया है। प्रमुख कंसल्टेंसी EY India की बुधवार को जारी IPO रिपोर्ट में कहा गया है कि कैलेंडर वर्ष 2021 की पहली तिमाही में IPO मार्केट में संख्या के लिहाज से कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, रिटेल, डाइवर्सिफाइड इंडस्ट्रीयल प्रोडक्ट्स, ऑटोमोटिव और ट्रांसपोर्टेशन सबसे अहम रहे।   

इस रिपोर्ट के मुताबिक ये IPO मुख्य बाजार के साथ-साथ SME (लघु एवं मझोले उद्योग) बाजारों से भी जुड़े हुए थे।  

(यह भी पढ़ेंः Bank FD की तुलना में अधिक रिटर्न पाना चाहते हैं, तो Corporate FD में करें निवेश, जानिए इससे जुड़ी महत्वपूर्ण बातें) 

हालिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पहली तिमाही में मजबूत प्रदर्शन के बाद 2021 की दूसरी तिमाही में भी IPO मार्केट का प्रदर्शन अच्छा रहने की उम्मीद है।  

इस साल की पहली तिमाही में 22 आईपीओ आए। इन 22 आईपीओ के जरिए कंपनियों ने 2.5 बिलियन डॉलर जुटाए। इनमें पांच आईपीओ SME स्पेस से संबंधित हैं। 

पहली तिमाही में इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन का आईपीओ 634 मिलियन डॉलर के इश्यू साइज के साथ सबसे बड़ा इनिशियल पब्लिक ऑफर रहा।  

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि मुख्य बाजारों (BSE और NSE) में 2021 की पहली तिमाही में 17 आईपीओ लिस्ट हुए। उल्लेखनीय है कि 2020 की पहली तिमाही में केवल एक आईपीओ आया था। वहीं, 2020 की चौथी तिमाही में 10 कंपनियां अपने IPO लेकर आईं।  

क्या होता है IPO

आईपीओ (IPO) का मतलब होता है- "आरंभिक सार्वजनिक निर्गम" यानी 'इनिशियल पब्लिक ऑफर'। इस प्रोसेस के माध्यम से कोई कंपनी इश्यू लाकर पहली बार अपने शेयर लोगों को ऑफर करती है। पब्लिक जाने का निर्णय करने वाली कोई भी कंपनी IPO ला सकती है। 

 

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.